तापसी पन्नू अपने अभिनय और अलग तरह की फिल्मों के चयन से दर्शकों का दिल जीत चुकी है। बहुत ही जल्द वह एक गेम प्रोग्रामर बन कर फिल्म ‘गेम ओवर’ में नज़र आएंगी। पिछले साल सूरमा, मुल्क, मनर्ज़िया और बदला जैसी फिल्म का हिस्सा रहीं तापसी की करियर की यह पहली ऐसी फिल्म होगी, जिसको सिर्फ और सिर्फ उनके नाम से ही प्रमोट किया जा रहा हैं। इतना ही नहीं फिल्म का पहला पोस्टर भी सिर्फ और सिर्फ उनके नाम पर सोलो ही रिलीज़ किया गया है। अपनी हर फिल्म से अपनी प्रतिभा को साबित करने वाली तापसी लेकिन खुद को अब भी स्टार नहीं मानती। उनके मुताबिक जिस दिन दर्शक उनके नाम पर थियेटर में टिकट खरीदने आएंगे, उस दिन वह खुद को स्टार मानेंगी।

मैं सुपरस्टार नहीं हूं

तापसी ने तेलूगु फिल्मों से शुरुआत की थी

Image Credit: data1.ibtimes.co.in

‘बेबी’, ‘नाम शबाना’, ‘मुल्क’ और बदला जैसी फिल्मों में अपने अभिनय से लोगों का दिल जीतने वाली तापसी के मुताबिक वह काम करने में तो विश्वास रखती हैं, लेकिन सेट से बाहर नेटवर्किंग करने में नहीं। अपनी ज़िंदगी को नॉर्मल रखने में विश्वास रखती तापसी के मुताबिक सुपरस्टार बनने की मंज़िल अभी काफी दूर है। तापसी की माने तो उन्हें सेट पर शूटिंग के दौरान तो लोगों से नेटवर्किंग करना पसंद है, लेकिन शूट के बाद वह घर पर रहकर एक नॉर्मल ज़िंदगी बिताने में विश्वास रखती हैं ।

कॉम्पिटिशन के इस दौड़ में भले ही उन्होनें अपनी फिल्मों के चयन से अपनी प्रतिभा को साबित कर दिया हो, लेकिन उन्हें लगता है कि सुपरस्टार बनने की मंज़िल अभी काफी दूर है। तापसी के मुताबिक, “जब मैं पैकअप कर के घर आती हूं तो वहां फिल्म से जुड़ा हुआ कुछ नहीं है। मैं भी फिल्म से जुड़ी जगहों पर कम जाती हूं क्योंकि मैं चाहती हूं कि मेरी लाइफ नॉर्मल दिखे और मैं नॉरमल पर्सन की तरह ही ग्रो हो सकूं। जहां तक बात है सुपरस्टार की तो मैं वो नहीं हूं। जिस दिन टिकट खिड़की पर जा कर लोग सिर्फ मेरी फिल्म की टिकट, मेरे नाम से खरीदेंगे, उस दिन मैं मानूंगी कि मैं सुपरस्टार या फिर स्टार भी हूं या नहीं।”

मेरा कॉम्पिटिशन किसी के साथ नहीं है

तापसी इंजीनियरिंग की नौकरी छोड़ फिल्मों में आई

Image Credit: assets.entrepreneur.com

जहां इंडस्ट्री में आए दिन बहुत से नए सितारे लगातार आ रहे हैं, वहीं तापसी किसी भी तरह के कॉप्पिटिशन में विश्वास नहीं रखती। तापसी की माने तो उनके करियर की रेस में वह केवल अकेली है और उनके साथ कोई और नहीं। तापसी के मुताबिक, “किसी के पीछे छोड़ने से नहीं,बल्कि मेरी खुद की ही हिट या फ्लॉप फिल्मों की वजह से मेरे करियर पर फर्क पड़ेगा। मेरे अलावा किन सितारों की फिल्म हिट या फ्लॉप हो रही हैं मैं उन बातों पर नहीं देती। मैं जानती हूं कि मेरी जो जर्नी है वह किसी और की नहीं है इसलिए मैं कॉम्पिटिशन किसके साथ करूं। कॉम्पिटिशन में वो लोग साथ में भाग सकते हैं, जिनका स्टार्टिंग प्वाइंट सेम हो, मेरी शुरुआत तो किसी के साथ नहीं हुई थी, तो मैं किसके साथ दौड़ लगाऊं?”

तापसी पन्नू की गेम ओवर तीन भाषाओं, हिन्दी , तमिल और तेलूगु में एक साथ रिलीज़ हो रही हैं। इस फिल्म के निर्देशक है अश्विवन सरवनन। यह फिल्म एक थ्रिलर फिल्म है जिसमें तापसी एक गेम प्रोग्रामर का किरदार निभाती नज़र आएंगी, जो किसी हादसे के कारण अपने पैर गंवा देती है और व्हील चेयर पर आ जाती है। वह कैसे एक सीरियल किलर से अपनी जान बचाती हैं, वहीं इस फिल्म की कहानी है।

HFT हिन्दी की एडिटर, मनमौजी, हठी लेकिन मेहनती..उड़ नही सकती लेकिन मेरी कल्पनाशक्ति को उड़ने से कोई नहीं रोक सकता। अपने महिला होने पर मुझे सबसे ज्यादा गर्व है। लिखना मेरा शौक है। लिखने के अलावा बेटे के साथ गप्पे मारना और खेलना मुझे बेहद पसंद है।