बॉलीवुड में ऐसे कम ही लोग है, जो हर मुद्दे पर बेबाकी से अपनी राय रखते हों। स्वरा भास्कर भी उन अभिनेत्रियों में से है। दिल्ली में पली बढ़ी स्वरा राजनीति में कदम रखना चाहती हैं। जी हां, स्वरा की योजना भविष्य में फिल्में छोड़ कर राजनीति से जुड़ कर समाज के कई मुद्दों पर काम करने की है।

‘मजबूरन’ राजनीति में जाना ही पड़ेगा

swara-bhaskar-plans-on-getting-in-politics
बार बार ट्रोल होती रहती हैं स्वरा

फिल्मों में अपने अभिनय से लोहा मनवा चुकी स्वरा काफी बेबाक है। जितना बड़ा उनका फिल्मी करियर नहीं , उससे बड़ी उनके साथ जुड़े विवादों की लिस्ट हैं। सामाजिक मुद्दों पर बात करना हो या फिर फिल्म इंडस्ट्री से जुड़े मुद्दे पर अपनी राय रखनी हो, वह किसी में भी पीछे नहीं रहती। हांलाकि फिल्म ‘वीरे दी वेडिंग’ के दौरान स्वरा के साथ हुई बातचीत में उन्होनें अपने कुछ ऐसे प्लान की घोषणा की, जिसके बारे में शायद ही लोग जानते हो। स्वरा ने कहा, “ जिस तरह की मेरी हरकतें हैं, तो मुझे लगता है कि फिल्मों से निकलकर बहुत जल्द मुझे राजनीति में ही जाना पड़ेगा।“मजबूरन”।”

हांलाकि इस बात को रखते हुए उन्होंने इस बात को साफ कर दिया था कि राजनीति को चुनना उनकी मजबूरी होगी, लेकिन साथ ही उन्होनें ये भी ज़ाहिर किया कि वह समाज के सभी मुद्दों पर काम करेंगी। पूछे जाने पर कि क्या वो सामाजिक मुद्दों और महिलाओं से जुड़े मुद्दे पर काम करना चाहेंगी ? इस पर स्वरा का जवाब था “ हर मुद्दों पर काम होगा, समाज के सारे मुद्दे पर काम करना है।”

जब सोनम ने खोली स्वरा की पोल

swara-and-sonam-together
सोनम और स्वरा अच्छी दोस्त है

दरअसल स्वरा के राजनीति में आने की पोल किसी और ने नहीं, बल्कि खुद उनकी बेस्ट फ्रेंड सोनम ने खोली। अपने फिल्म प्रमोशन के दौरान मीडिया से मुखातिब हुई सोनम ने सभी को बताया, “मेरा ससुराल दिल्ली में है, इस बात से स्वरा बहुत खुश हैं क्योंकि जब उसका पॉलिटीकल करियर शुरु हो जायेगा, तब उसका एक और घर (यानि सोनम का घर) दिल्ली में भी होगा।”

सोनम के इस बयान के बाद स्वरा को ये बात कबूल करनी पड़ी की वह भविष्य में राजनीति में जाने का मन रखती हैं। हांलाकि कब और कैसे इस बात पर उन्होंने खुल कर कोई बात नहीं की।

स्वरा की बेबाकी कहीं इसलिए तो नहीं ?

स्वरा के इस सिक्रेट प्लान के बाहर आने पर इस बात को बेहतर तौर पर समझा जा सकता है कि आखिर क्यों बार बार वह अपनी राय को बिंदास तौर पर रखती हैं। हाल ही में फिल्म ‘वीरे दी वेडिंग’ में मॅस्ट्रूबेशन के सीन पर ट्रोल होने वाली स्वरा ने, जहां अपने जवाब से सभी की बोलती बंद कर दी, वहीं स्वरा के संजय लीला भंसाली को लिखे गए खत ने भी काफी सुर्खियां बटोरी थी। इस खत में उन्होनें फिल्म ‘पदमावत’ में जौहर के सीन को ग्लोरिफाई कर दिए जाने पर आपत्ति जताई थी। इसके अलावा कश्मीरी लड़की के साथ हुए बलात्कार को लेकर रखी गई उनकी राय पर भी उन्हें काफी ट्रोल किया गया।

स्वरा का फिल्मी सफर और सोनम से दोस्ती

swara-and-sonam-ranjhana
फिल्म रांझना के सेट पर हुई दोनों की दोस्ती

साल 2011 में आई फिल्म ‘तनु वेड्स मनु’ से अपनी पहचान बनाने वाली स्वरा ने इस फिल्म के बाद पीछे मुड़ कर नहीं देखा। फिल्म ‘रांझना’ में सोनम के साथ काम करने वाली स्वरा की सेट पर ही सोनम के साथ दोस्ती हो गई और दोनों बेस्ट फ्रेंड बन गए। इसके बाद सोनम के साथ ‘प्रेम रत्न धन पायो’ और अब ‘वीरे दी वेडिंग’ का भी वो हिस्सा थी। स्वरा की इस बेबाकी की सोनम भी कायल हैं और इसलिए वह कहती हैं “बहुत कम ऐसे लोग है, जो मेरे जैसा सोचते है और अपनी राय रखती हैं, यह बात बहुत महत्वपूर्ण है कि आपके साथ कोई ऐसा दोस्त होना चाहिए, जो बिल्कुल आपके जैसा सोचते हो। साथ ही वह काफी बहादुर और बेबाक है और इसलिए मुझे पसंद है।”

हालांकि यूं तो कई एक्टर फिल्मों के बाद राजनीति में जा चुके है, ऐसे में स्वरा जिस राह पर चल रहीं हैं, उससे तो यहीं कहा जा सकता है कि दिल्ली दूर नहीं।

HFT हिन्दी की एडिटर, मनमौजी, हठी लेकिन मेहनती..उड़ नही सकती लेकिन मेरी कल्पनाशक्ति को उड़ने से कोई नहीं रोक सकता। अपने महिला होने पर मुझे सबसे ज्यादा गर्व है। लिखना मेरा शौक है। लिखने के अलावा बेटे के साथ गप्पे मारना और खेलना मुझे बेहद पसंद है।