सोलो – ए स्टार वॉर्स स्टोरी, स्टार वॉर्स एंथोलॉजी की दूसरी फिल्म है, ये फिल्म हेन सोलो के स्पेस स्मगलर बनने से पहले की कहानी को बताती है। स्टार वॉर फॉलो करने वाले दर्शकों को शायद इस फिल्म में वह रोमांच न दिखे, लेकिन अगर आप इस फिल्म की तुलना इससे पहले रिलीज़ हुई स्टार वॉर से न करें, तो यह फिल्म आपको पसंद आएगी।

फिल्म की कहानी

हेन सोलो (एल्डन एहरेनपीच) कैसे मिलेनियम फेलकम का बादशाह बना, वह कैसे स्पेस स्मगलर बना, इसकी कहानी आपको इस फिल्म में दिखाई देगी। यह फिल्म हेन सोलो के जीवन की उस कहानी को बताती है, जो स्टार वॉर्स के दर्शकों को अभी तक नहीं पता थी। हेने सोलो की मुलाकात चिउबाक्का (जोनास) से कैसे हुई, वह कैसे उसका को-पायलेट बना और कैसे उसकी पहली मुलाकात लैंडो कालरिसियन (डोनाल्ड ग्लोवर, जो वाकई में फेलकम का मालिक है) से हुई ये सब बताती है। साथ ही हेन सोलो का पहला प्यार इंटरेस्ट क्वीरा (एमिलिया क्लार्क) के बारे में भी यह फिल्म बताती है। रॉन हावर्ड निर्देशित इस फिल्म की कहानी शुरु होती है ‘कोरेयला’ नाम के अजब-गजब प्लेनट से, जहां से हेन अपनी गर्लफ्रेंड क्वीरा के साथ भाग जाना चाहते हैं। हालांकि भाग जाने में वह सफल भी होते है, लेकिन अपने इस प्रयास में हेन तो भाग जाता है, लेकिन उनकी गर्लफ्रैंड किसी कारण से पीछे रह जाती हैं। हेन अपनी गर्लफ्रैंड को वापस लाना चाहता है और इसी कारण वह किसी तरह बैकेट(हैरेलसन)के नेर्तत्व में कोक्सीयम (ऐसा फ्यूल जो स्टारशीप चला सके) चुराने जा रही उनकी टीम से जा मिलता है। इस दौरान कैसे उसे उससे बिछड़ चुकी गर्लफ्रैंड उस प्लेनट पर नहीं, बल्कि कहीं और मिलती है। वह वहां कैसे पहुंची, वह क्यों बदल गई और आगे क्या हुआ, यहीं इस फिल्म की कहानी है।

Han-Solo-in-Star-wars-Solo
हेन सोलो का यंग किरदार निभाने वाले एल्डन एहरेनपीच की एक्टिंग से निर्देशक खुश नहीं थे, चर्चा है कि सेट पर उनके लिए एक्टिंग कोच को बुलाया गया था।

फिल्म के किरदार

फिल्म में हेन सोलो का किरदार एल्डन ने बखूबी निभाया है। हालांकि यह किरदार निभाने से पहले उनके लिए कई बार इस बात को लेकर चर्चा हुई थी कि क्या वाकई वह इस किरदार के साथ न्याय कर पाएंगे, लेकिन फिल्म को देखकर कहा जा सकता है कि उन्होंने इस किरदार को बखूबी निभाया। हेन सोलो की लव इटरस्ट का किरदार निभानेवाली एमिलिया फिल्म की शुरुआत में कुछ समय के लिए आती है, लेकिन फिर फिल्म पर हेन छा जाते है , हालांकि कुछ देर बाद जब फिल्म में एमिलिया की वापसी होती है, तो फिल्म फिर से काफी इंटरस्टींग हो जाती है। फिल्म में हेन को स्मगलिंग की राह दिखाने वाले, या यूं कहे कि उनके मेंटर की भूमिका अदा करने वाले वुडी हैरलसन का किरदार भी दिलचस्प है। पॉल बेटनी भी इस फिल्म में एक अहम भूमिका निभा रहे है, दरअसल उन्हें इस फिल्म का मेन विलेन कहा जा सकता है। फिल्म में सभी एक्टर ने अपने किरदारों के साथ न्याय किया है।

फिल्म का माइनस पॉइंट और प्लस पॉइंट

फिल्म का सबसे बड़ा माइनस पॉइंट यह है कि फिल्म स्टार वॉर सीरीज़ के बारे में ऐसा कोई बड़ा खुलासा नहीं करती, जिसे मिस कर देने पर आप स्टार वॉर सीरीज़ ना समझ पाए। लेकिन फिल्म के कुछ सीन्स है, जो आपका दिल जीत लेंगे। बर्फ से घिरे पहाड़ो के बीच रेल और स्पेसशीप की लड़ाई के दृश्य काफी खूबसूरत हैं। स्पेस सम्गलिंग में डील करती इस फिल्म में आपको कहीं कहीं ऐसा एहसास होगा कि फिल्म स्पेस से ज़्यादा लैंड पर है।

फिल्म से जुड़ा विवाद

star-wars-solo-70%-movie-reshoot
फिल्म को 70 प्रतिशत फिर से शूट किए जाने की चर्चा है

फिल्म की शूटिंग साल 2017 जनवरी में शुरू हुई थी, शूटिंग की शुरुआत से ही यह फिल्म कई तरह के विवादों में घिरी रही। दरअसल फिल्म का निर्देशन फिल लार्ड औऱ क्रिस मिलर ने शुरु किया, लेकिन फिल्म की शूटींग छह महीने तक हो जाने के बाद उनको निर्देशक की कुर्सी से हटा दिया गया, जिसके बाद निर्देशन का कार्यभार रॉन हावर्ड ने संभाला। उन्होनें इस फिल्म का 70 प्रतिशत हिस्सा फिर से शूट किया।

क्या फिल्म चलेगी

हाल ही में एवेंजर्स और डेडपुल रिलीज़ हुई थी, एक ही महीने में इस तरह की ये तीसरी फिल्म है, जिसमें हाई एक्शन ड्रामा हो। खास बात ये है कि पहले की इन दोनों फिल्मों पर पैसे खर्च करने वाले दर्शक क्या एक और एक्शन ड्रामा देखने थियेटर तक जाएंगे? हालांकि स्टार वॉर के फैंस के लिए ये फिल्म मज़ेदार हो सकती है । इसके अलावा फिल्म का अंत जिस तरह से किया गया है, उस बात से यह बात तो दावे के साथ कही जा सकती है कि युवा हेन सोलो की एक और कहानी पर फिल्म आराम से बनाई जा सकती है। फिल्म देखने के बाद आपको एहसास होगा कि भले ही इस फिल्म की ज़रुरत नहीं थी , लेकिन फिल्म देखने पर आपके पैसे ज़रुर वसूल होंगे।

हॉट फ्राइ़डे टॉक्स इस फिल्म को 3 स्टार देता है।

HFT हिन्दी की एडिटर, मनमौजी, हठी लेकिन मेहनती..उड़ नही सकती लेकिन मेरी कल्पनाशक्ति को उड़ने से कोई नहीं रोक सकता। अपने महिला होने पर मुझे सबसे ज्यादा गर्व है। लिखना मेरा शौक है। लिखने के अलावा बेटे के साथ गप्पे मारना और खेलना मुझे बेहद पसंद है।