13 अगस्त को बॉक्स ऑफ़िस पर होगी करप्शन के खिलाफ लड़ाई। इस लड़ाई को शुरू करने जा रहे हैं जॉन अब्राहम। हाल ही में जॉन की फिल्म ‘परमाणु- द स्टोरी ऑफ पोखरण’ को काफी पसंद किया गया था।अब बहुत की जल्द वह करप्शन के मुद्दे के साथ आने वाले है। फिल्म का ट्रैलर आज ही रिलीज़ किया गया। फिल्म में दमदार डॉयलॉग और एक्शन का तड़का देखने को मिल रहा है।

पिता ने हमेशा सही रास्ते पर चलने की सीख दी

ट्रेलर को देखकर ये बात तो साफ हो जाती है कि जॉन इस फिल्म में एक ऐसे व्यक्ति का किरदार निभा रहे हैं, जिसके पिता किसी करप्शन के इल्जाम का शिकार होकर ख़ुदकुशी कर लेते है। जॉन ये सब अपने बचपन में देखता है और बदला लेने की थाम लेता है, जिसके बाद शुरु होता है ‘सत्यमेव जयते’। यू तो इससे पहले भी इस तरह की कई फिल्में बनी है, लेकिन इस स्वतंत्रता दिवस पर एक बार फिर करप्शन की लड़ाई को बॉक्स ऑफ़िस पर दिखाया जाएगा। फिल्म में मुख्य किरदार निभा रहे है जॉन का मानना कि उन्होंने आज तक कभी भी किसी भी तरह का करप्शन नहीं किया है। “मेरे पापा ने मुझे जिस तरह से बड़ा किया है वह काफी मुश्किल था। वह आर्किटेक्ट थे, बहुत मुश्किल था हमे बड़ा करना। मैं आठवीं में था तब कुछ ऐसा हुआ कि कुछ पैसा नहीं था, लेकिन तब भी मेरे पापा ने मुझे यही सिखाया कि बेटा कुछ भी हो जाए कभी किसी के धोखा मत करना और कभी किसी को दर्द मत देना। मैं करप्शन के एकदम खिलाफ हूं।”

फिल्म के दमदार डॉयलॉग

movies-on-15th-august
इस दिन अक्षय कुमार और देओल परिवार की फिल्म भी बॉक्स ऑफ़िस पर रिलीज़ हो रही है।

ट्रेलर से साफ है कि इस फिल्म की सबसे बड़ी पहचान है फिल्म के दमदार डॉयलॉग। फिल्म के निर्देशक मिलाप झवेरी ने ही इस फिल्म के डॉयलॉग लिखे है। कई डॉयलॉग ऐसे है, जो आपको याद रह जाते है। ट्रेलर रिलीज़ होने के बाद काफी पसंद किया जा रहा ‘अब दुनिया का कोई भी मर्द ये ताना नहीं मारेगा कि तूने चूड़ियां पहनी है क्या “ डॉयलॉग भले ही मिलाप ने लिखा हो, लेकिन ये डॉयलाग जॉन की वजह से फिल्म में है। इसके पीछे की कहानी बताते हुऐ मिलाप बताते हैं, दरअसल इस एक्शन सीन को करते हुए जॉन को लगा कि इसमे इमोशन नहीं है, इसीलिए उन्होंने मुझे एक डॉयलॉग लिखने को कहा और मैंने यह डॉयलॉग उसी समय लिख दिया। यह डॉयलॉग आज फिल्म में जॉन की वजह से है और मैं मानता हूं कि यह डॉयलॉग सभी को काफी पसंद आएगा।”

खास बात है कि 13 अगस्त को जॉन अकेले नहीं, बल्कि अक्षय कुमार और देओल परिवार से बॉक्स ऑफ़िस पर टक्कर ले रहे है। स्वतंत्रता दिवस के मौके की छुट्टीयों का फायदा उठाने के लिए इस साल एक नहीं तीन-तीन फिल्मों की टक्कर हो रही है। हालांकि जॉन का कहना है, “अक्षय मेरा बहुत अच्छा दोस्त है। मुझे लगता है कि उसकी भी फिल्म चले और मेरी भी। मुझे ये लगता है कि इतने थियेटर और लोग है फिल्म देखने के लिए कि दोनों ही फिल्मों को बिज़नेस मिलेगा। “

सत्यमेव जयते में जॉन के साथ आयशा शर्मा और मनोज वाजपेयी जैसे सितारे देखने को मिलेंगे। आज़ाद भारत में स्वतंत्रता दिवस के दिन बॉक्स ऑफ़िस पर लगने वाले ‘सत्यमेव जयते’ के इस नारे में कितने लोग हिस्सा लेते हैं, ये तो वक्त ही बताएगा।

HFT हिन्दी की एडिटर, मनमौजी, हठी लेकिन मेहनती..उड़ नही सकती लेकिन मेरी कल्पनाशक्ति को उड़ने से कोई नहीं रोक सकता। अपने महिला होने पर मुझे सबसे ज्यादा गर्व है। लिखना मेरा शौक है। लिखने के अलावा बेटे के साथ गप्पे मारना और खेलना मुझे बेहद पसंद है।