साइंटिस्ट नंबी नारायणन की जिंदगी पर बन रही फिल्म राकेट्री- द नंबी इफेक्ट को माधवन निर्देशक अनंत माधवन के साथ मिलकर डायरेक्ट कर रहे थे। हालांकि अब खबर आई है कि इस फिल्म को अब आर माधवन ही पूरी तरह से डायरेक्ट करेंगे क्योंकि अनंत इस फिल्म के साथ अब नहीं जुड़े रहेंगे। फिल्म में वैज्ञानिक नंबी की भूमिका निभाते माधवन की इसफिल्म का टीज़र पिछले सांझा किया गया था और लोगों को बेहद पसंद आया था।

यह फिल्म हिंदी, अंग्रेजी, तमिल तेलुगू और मलयालम भाषा में बन रही है। अनंत के फिल्म छोड़ने और फिल्म के निर्देशन से जुड़ने के बारे में माधवन का कहना हैं, “अनंत महादेवन एक बहुत ही टैलेंटेड निर्देशक है, लेकिन वह किसी कारण इस फिल्म को नहीं कर पा रहे हैं और रॉकेट्री मेरे दिल के काफी करीब है। मैं पूरी दुनिया को नंबी नारायणन की कहानी बताना चाहता हूं। मैं इसके साथ जुड़ कर खुश हूं।“

पिछले साल अक्टूबर में रिलीज़़ किए गए इस फिल्म के 1मिनट 20 सेकेंड के टीज़र में स्पेस जगत में भारत द्वारा पाई गई उपलब्धियों को बताया गया था। मंगल मिशन को पूरा करने के लिए अमेरिका के नासा की 19 बार कोशिश, तो रूस ने 16 बार कोशिशों की तुलना में, कैसे भारत ने आधी कीमत में पहली बार में मंगल मिशन पूरा कर लिया, इसी पर फिल्म का टीज़र आधारित था। आप भी देखें इसकी एक झलक..

कौन है नंबी नारायणन

नंबी नारायण इसरो यानी भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन में काम करते थे। वह 1970 से वहां कार्यरत थे, लेकिन 1994 में नंबी पर जासूसी का आरोप लगा था। जिसके बाद उन्होंने लगभग 24 साल इसके खिलाफ लड़ाई लड़ी। वह आखिर में बेकसूर साबित हुए।

कई भाषाओं में एक साथ बनने वाली यह फिल्म इस साल गर्मियों में रिलीज़ होगी। हालांकि फिल्म की तारीख अभी तय नहीं है।

HFT हिन्दी की एडिटर, मनमौजी, हठी लेकिन मेहनती..उड़ नही सकती लेकिन मेरी कल्पनाशक्ति को उड़ने से कोई नहीं रोक सकता। अपने महिला होने पर मुझे सबसे ज्यादा गर्व है। लिखना मेरा शौक है। लिखने के अलावा बेटे के साथ गप्पे मारना और खेलना मुझे बेहद पसंद है।