अगर वेलेंटाइन के दिन आप अपने काम के चलते समय नहीं निकाल पा रहे, तो शनिवार की शाम आप उसकी भरपाई कर सकते हैं। दरअसल मुंबई के खार हैबिटेट में रविवार की शाम एक साथ स्टेज पर सात रैपर्स आने वाले हैं। जहां इस हफ्ते ‘गली ब्वॉय’ रिलीज़ के लिए तैयार है, वहीं इस वीकेंड आप अपनी शाम उन रैपर के साथ बिता सकते हैं, जिन्होंने इस फिल्म में किसी ना किसी तरह से कोई ना कोई योगदान ज़रुर दिया है। इस शो में शामिल होने वाले रैपर में Dopeadelicz की जोड़ी, Yeda Anna, Maze022, MC Altaf, D’Evil और Maharya सभी को एक साथ सुनने का मौका मिलेगा। खास बात है कि इवेंट में शामिल होने वाले Maharya ने aawaz.com के साथ अपने करियर से जुड़ी संघर्ष की कहानी को साझा किया है।

महा आर्या का असली नाम यश है

इस शो में Maharya के साथ आप भी रैप कर सकेंगे

शो में अन्य कलाकारों के साथ परफॉर्म कर रहे Maharya के मुताबिक हिप हॉप म्यूज़िक को पहली बार सुनते ही उन्हें इससे लगाव हो गया था। उन्हें यह महसूस हो गया था कि यही वो फील्ड है, जिसमे वो करियर बना सकते है। हालांकि रैप में दिलचस्पी होने के बावजूद उन्होंने अपनी पढ़ाई पर फोकस करना कभी नहीं छोड़ा। aawaz.com से साथ हुई बातचीत में महा आर्या ने बताया, “मैंने अपने मां बाप की इच्छा की वजह से अपनी पढ़ाई पूरी की, लेकिन मुझे आज भी अफसोस है कि लाख कोशिशों के बावजूद मैं कॉलेज के आखिरी साल में पास नहीं हो पाया।”

दूसरे रैपर्स का काम देख देख कर ली ट्रेनिंग

यश ने रैप की दुनिया के लिए अपना नाम Maharya रख लिया।

कई दूसरे दिग्गज रैपर्स के वीडियो देख देखकर ट्रेनिंग लेने वाले यश ने धीरे धीरे लिखना शुरु कर दिया । उनका लिखा हुआ लोगों को पसंद आने लगा। उनकी लेखनी की सबसे खास बात यही है कि वो समाज से जुड़े अलग अलग मुद्दों पर लिखते हैं। यश रैप को लोकप्रिय बनाने का श्रेय रफ्तार और हनी सिंह को देते है, लेकिन साथ ही उनका ये भी मानना है कि उनके लिखे और गाए गीत कई अंडरग्राउंड रैपर्स के साथ अन्याय करते हैं। उनके मुताबिक, “कितने सारे बड़े रैपर्स है,लेकिन उनके गीतों में केवल शराब और लड़कियों की ही बातें होती हैं। यह बात सही नहीं है। ऐसा करना मेरे जैसे और भी कई अंडरग्राउंड रैपर्स के साथ अन्याय करना है।” अपने रैप में कई मुद्दों और गहरी बातों को करने वाले Maharya के रैप आप उनके चैनल पर जाकर भी सुन सकते हैं। हालांकि उनके रैप को सुनने के बाद आपको एहसास होगा कि आखिर उनका रैप दूसरे लोगों से किस मायने में अलग है।

दर्शक जिससे जुड़ सके वही रैप है

यश शुरुआती दौर में हिन्दी और अंग्रेज़ी दोनों भाषा में लिखते थे।

यश के मुताबिक भारत में 60 से 65% लोग हिप हॉप सुनते है। यहां तक की लोग अब उसे काफी पसंद भी करने लगे है। यश को उम्मीद है कि आने वाले रैपर्स के लिए रास्ता भले ही काफी आसान होने वाला है, लेकिन ज़रुरी है कि रैप में नाम कमाना चाहते युवा भी मेहनत करें। उनका मानना है, “ अपकमिंग रैपर्स की जर्नी आसान हो सकती है अगर वो रोज़ मन लगाकर प्रेक्टिस करें। उनको फोकस रहना होगा, पूरी फील के साथ दिल से गीत लिखने होंगे।”

रैप के लिए प्यार और रैप से ही अपनी पहचान बनाने वाले Maharya को अगर आप भी शनिवार की शाम सुनना चाहते है तो आप भी इस लिंक पर क्लिक कर ‘रैप वाला शो’ की टिकट बुक करना ना भूलें।

HFT हिन्दी की एडिटर, मनमौजी, हठी लेकिन मेहनती..उड़ नही सकती लेकिन मेरी कल्पनाशक्ति को उड़ने से कोई नहीं रोक सकता। अपने महिला होने पर मुझे सबसे ज्यादा गर्व है। लिखना मेरा शौक है। लिखने के अलावा बेटे के साथ गप्पे मारना और खेलना मुझे बेहद पसंद है।