राजकुमार राव इन दिनों कई लड़कियों के दिल की धड़कन बने हुए है। इंडस्ट्री में इन दिनों वाकई किसी एक्टर की धूम है तो वो है इंडस्ट्री के थ्री आर यानी राजकुमार राव, रणवीर सिंह और रणबीर कपूर। पिछले साल 2018 में बॉक्स ऑफिस पर स्त्री जैसी उम्दा और हिट फिल्म देने वाले राजकुमार की इस साल की पहली फिल्म एक रोमांटिक फिल्म है, जिसका नाम है एक लड़की को देखा तो ऐसा लगा। हालांकि रोमांस की चर्चाओं से दूर रहते राजकुमार लेकिन रोमांस के मामले में पीछे नहीं। हाल ही में उन्होंने खुलासा किया कि उन्हें अपनी ज़िंदगी में पहला क्रश तब हुआ था जब वह दसवी क्लास में थे।

वेलेंटाइन डे का रहता था इंतज़ार


Rajkumar-rao-dosent-belives-in-stardom-500x360
राजकुमार की अगली फिल्म इस शुक्रवार को रिलीज़ होगी

Image Credit: Bollywood Tadka
अपने फिल्मी करियर में रोमांटिक नहीं, बल्कि कंटेंट बेस्ड फिल्में करने वाले राजकुमार राव असली ज़िंदगी में इतने बोरिंग नहीं। इस शुक्रवार यानी 1 फरवरी को राजकुमार राव, सोनम कपूर के साथ बॉक्स ऑफ़िस पर फिल्म एक लड़की को देखा तो ऐसा लगा से आ रहे हैं। दरअसल, इस फिल्म का टाइटल 1995 में रिलीज़ हुई फिल्म 1942 ए लव स्टोरी से लिया गया है। जावेद अख्तर के लिखे गीत से लिए गए इस टाइटल के एक बात तो ज़ाहिर है कि यह एक रोमांटिक टॉपिक की और इशारा करता है। हालांकि राजकुमार से पूछे जाने पर कि उन्हें पहली बार कब किसी लड़की को देख कर कुछ कुछ हुआ था, तो राजकुमार ने माना, “मुझे पहली बार दसवी क्लास में एक लड़की को देख कर ऐसा लगा था। हालांकि तब मुझे पहली बार एहसास हुआ था कि पहली बार भी किसी को देख कर कुछ हो सकता है। जब भी ऐसा कुछ होता था, तो हम वेलेंटाइन डे का इंतज़ार करते थे। कभी बात बनती थी, तो कभी नहीं बनती थी।”

मैं स्टारडम को नहीं समझता, मैं सादा जीवन जीता हूं


Rajkumar-rao-interview-500x360
एक छोटी फिल्म लव सेक्स धोखा से राजकुमार ने करियर की शुरुआत की थी

Image Credit: www.navodayatimes.in
इंडस्ट्री से ना होकर भी सिर्फ और सिर्फ अपनी मेहनत से पहचान बनाने वाले राजकुमार का नाम आज इंडस्ट्री में टॉप हीरो में लिया जाता है। यहां तक की जहां पहले खानो यानी की शाहरुख, आमिर और सलमान की इंडस्ट्री कही जाती थी,वहीं अब थ्री आर यानी राजकुमार, रणवीर और रणबीर की कही जाने लगी है। हालांकि इन सब बातों से बिल्कुल भी प्रभावित ना होते हुए राजकुमार कहते है कि वो आज भी खुद को स्टार नहीं मानते, “मैं खुश हूं कि मेरा नाम उनके साथ लिया जाता है, क्योंकि मुझे खुद दोनों का काम पसंद है। लेकिन मेरा विश्वास कीजिए मैं आज भी बहुत सादा सा जीवन जीता हूं और मुझे कभी नहीं लगता कि मैं स्टार बन गया हूं। मैं यहां मुंबई काम करने आया था, एक्टिंग करने आया था और मैं खुश हूं कि आज मुझे लोग मेरे काम की वजह से पहचानते हैं।”

राजकुमार भले ही खुद को स्टार ना समझे, लेकिन बॉक्स ऑफिस पर उनको मिल रही लगातार सफलता से यह बात साफ है कि आज वह उन सितारों में तो अपना नाम शामिल करवा ही चुके है, जिनके नाम पर दर्शक खींचे चले आते हैं।

HFT हिन्दी की एडिटर, मनमौजी, हठी लेकिन मेहनती..उड़ नही सकती लेकिन मेरी कल्पनाशक्ति को उड़ने से कोई नहीं रोक सकता। अपने महिला होने पर मुझे सबसे ज्यादा गर्व है। लिखना मेरा शौक है। लिखने के अलावा बेटे के साथ गप्पे मारना और खेलना मुझे बेहद पसंद है।