‘नमस्ते इंग्लैंड’ बॉलीवुड की उन चंद फिल्मों में से एक है, जिसका इंतजार दर्शक काफी बेसब्री से कर रहे थे। विपुल शाह निर्देशित इस फ़िल्म की सबसे खास बात है इस फ़िल्म में अर्जुन और परिणीति की जोड़ी, जो इश्क़ज़ादे के बाद एक बार फिर साथ आ रही हैं। इंग्लैंड और पंजाब में फिल्माई गयी ये फ़िल्म महिला सशक्तिकरण के साथ साथ, भारतीयों की विदेश में जाकर बसने की लालसा को भी दिखती हैं। दरअसल फिल्म की पुरी कहानी का सार फिल्म एक डॉयलॉग में है “ इस बात से फर्क नहीं पड़ता कि आप कहां रहते हैं, फर्क इस बात से पड़ता है कि आप किस के साथ रहते हैं और कौन आप से कितना प्यार करता है।”

फ़िल्म की कहानी

Still-From-Namaste-England-Movie-500x360
सुरेश नायर और रितेश शाह ने फिल्म की कहानी लिखी हैं

परम यानी अर्जुन कपूर और जसमीत यानी परिणीति चोपड़ा इस फ़िल्म के हीरो हीरोइन है। परम को पहली नज़र में जसमीत से प्यार हो जाता है। कुछ महीनों के अफेयर के बाद दोनों की शादी भी तय हो जाती है। बचपन से अपने दादा और बड़े भाई से दबी रही जसप्रीत का एक ही सपना है कि वो खुद अपने पैरो पर खड़े होकर खुद की पहचान बनाए। शादी से पहले वो यही शर्त परम के सामने रखती है कि वह उसे काम करने से कभी भी मना नहीं करेगा। साथ ही जसमीत की इच्छा विदेश में जाकर कुछ अपना करने की है, लेकिन कुछ कारणों की वजह से परम को वीज़ा नहीं मिल पाता। किसी तरह जुगाड़ लगाकर जसमीत किसी तरह इंग्लैंड की धरती पर पहुंच जाती है और वहीं परम भी जैसे-तैसे इंग्लैंड पहुंचने में सफल हो जाता है। जसमीत का अपने पति परम से ज़्यादा इंग्लैंड शहर से प्यार और कैसे परम जसमीत को उसकी गलतियों का एहसास कराता है, कैसे उसके प्यार की जीत होती है, वहीं इस फिल्म की कहानी है ।

किरदारों का अभिनय

Arjun-Kapoor-and-parineeti-chopra-in-Namaste-England-500x360
फिल्म में कहीं कहीं परिणीति का अभिनय अर्जुन पर भारी पड़ता दिखाई देता है।

फिल्म में अर्जुन और परिणीति मुख्य किरदार में है। अर्जुन परिणीति की केमिस्ट्री को ट्रेलर लांच होते साथ ही काफी सराहा गया था। जहां अर्जुन कपूर एक जट पंजाबी के किरदार में एकदम परफेक्ट लगते हैं, वहींं परिणीति ने भी एंबिशयस पंजाबी कुड़ी का किरदार खूबसूरती के साथ निभाया है। खास बात है कि दोनों ही एक्टर असली ज़िंदगी में भी पंजाबी है, ऐसे में बड़े परदे पर पंजाबी किरदार निभाते हुए दोनों काफी रियलस्टिक दिखते हैं।

फिल्म देखें या नहीं

Review-of-Namaste-England-Movie-500x360
निर्देशक विपुल शाह की ‘नमस्ते लंडन’ काफी हिट रही थी

फिल्म में ऐसी कोई खास बात नहीं है, जो आपका दिल जीत ले। फिल्म का नाम ‘नमस्ते इंगलैंड’ ज़रुर है, लेकिन आपको इंग्लैंड की झलक कहीं कहीं ही देखने को मिलेगी। फिल्म की कहानी में कई लुपहोल है। महिला सशक्तिकरण के साथ शुरु हुई यह फिल्म विदेश में जाकर बस चुके भारतीयों की दशा को दिखाती है, तो कभी-कभी देशभक्ति का संदेश देती है। फिल्म के डायलॉग और कॉमिक टाइमिंग दोनों की काफी कमज़ोर है। अर्जुन और परिणीति ने बेहतरीन अभिनय करने की कोशिश की है, लेकिन अगर कहानी में ही दम ना हो तो अभिनेता क्या करेंगे। फिल्म में अगर कुछ देखने लायक है, तो फिल्म के आखिर में आता बादशाह का गीत और अर्जुन और परिणीति चोपड़ा की केमेस्ट्री।

हॉट फ्राइडे टॉक्स फिल्म को 2 स्टार देता है।

HFT हिन्दी की एडिटर, मनमौजी, हठी लेकिन मेहनती..उड़ नही सकती लेकिन मेरी कल्पनाशक्ति को उड़ने से कोई नहीं रोक सकता। अपने महिला होने पर मुझे सबसे ज्यादा गर्व है। लिखना मेरा शौक है। लिखने के अलावा बेटे के साथ गप्पे मारना और खेलना मुझे बेहद पसंद है।