कार्तिक आर्यन इन दिनों यूवाओं में काफी मशहूर हो रहे हैं और खास कर लड़कियों में। अपने काम से धीरे धीरे सभी का दिल जीत रहे कार्तिक की हाल ही में रिलीज़ हुई फिल्म ‘लुका छुप्पी’ में उन्हें काफी पसंद किया गया। साल 2011 में फिल्म ‘प्यार का पंचनामा’ से इंडस्ट्री में अपने करियर की शुरुआत करने वाले कार्तिक ने पिछले 7 सालों में’ प्यार का पंचनामा पार्ट 2’, ‘सोनू के टीटू की स्वीटी’ और ‘लुका छुप्पी’ जैसी फिल्में की। अपनी कॉमेडी और फिल्म में अपने मोनोलॉग से लोगों को इम्प्रेस करने वाले कार्तिक, इन दिनों कई निर्देशकों की पसंद भी बने हुए है। हालांकि कार्तिक का मानना है कि वह अभी भी खुद को सफल नहीं मानते और कभी भी सफलता को अपने सिर चढ़ने नहीं देना चाहते।

मुझे इंडस्ट्री जुआ लगती है

कार्तिक ग्वालियर से है जो मुंबई पढ़ाई के सिलसिले में आए थे

ग्वालियर में पले-बढ़े कार्तिक, मुंबई इंजीनियरिंग की पढ़ाई के सिलसिले में भले ही आए हो, लेकिन उनका असली मकसद हीरो बनना था। लगातार 3 साल तक ऑडिशन देने के बाद उन्हें लव रंजन की फिल्म ‘प्यार का पंचनामा’ से साल 2011 में ब्रेक मिल गया। पहली फिल्म मिलने के बाद भी कार्तिक का संघर्ष कम नहीं हुआ, लगातार 7 साल के संघर्ष के बाद भले ही कार्तिक इंडस्ट्री में अब अपनी जगह बना चुके हो, लेकिन कार्तिक अब भी खुद को सफल नहीं मानते, उनका कहना है कि इंडस्ट्री उन्हें एक जुआ लगता है। जिसमें कभी भी कुछ भी होना संभव है। कार्तिक की माने तो, “जिस बैकग्राउन्ड से हूं लोग कहते है कि अच्छे अच्छे से सर पर सफलता चढ़ जाती है। लेकिन मेरे साथ नहीं हुआ है और ना ही मैं होने दूंगा और ना ही मेरे मम्मी पापा होने देंगे। वो मुझे आज भी उतना ही डांटते है, जितना बचपन में डांटते थे। मुझे इंडस्ट्री एक जुआ लगता है। मुझे कभी नहीं लगता है कि हां मैने कुछ पा लिया है। यहां पर हमेशा ही दौड़ और संघर्ष चालू ही रहेगा। पहले टॉप 3 में आना है, फिर टॉप 2 में आना है फिर रेस में बने रहना है। मेरा हमेशा से रहा है कि दूसरे नम्बर पर रहो क्योंकि पहले नम्बर पर तो हमेशा आप गिरते ही हो, पहले नम्बर पर हो तो उससे आगे तो जा नहीं सकते।”

मैं खुश हूं अगर मेरा नाम कमर्शियल सितारों के साथ लिया जाता है

कार्तिक की हाल ही में रिलीज़ हुई फिल्म ‘लुका छुप्पी’ को लोगों से काफी सराहना मिली

यूं तो कार्तिक ने अपने करियर में फिलहाल कॉमेडी फिल्में ज्यादा की है, लेकिन फिर भी उनका नाम वरुण , रणवीर, राजकुमार और रणबीर जैसे कई मल्टी टेलेंटेड सितारों के साथ लिया जा रहा है। इंडस्ट्री के इन टॉप सितारों के साथ हो रही तुलना से कार्तिक काफी खुश है, उनके मुताबिक, “ जिन सितारों के साथ मेरा नाम लिया जा रहा है, वो मुझे बहुत अच्छा लग रहा है। मैं बचपन से ही दिल और दिमाग से कमर्शियल फिल्मों का दीवाना रहा हूं और मुझे भी ऐसा कंटेंट पसंद है जो रणवीर, वरुण या राजकुमार को। यह सभी बेहतरीन एक्टर और कमर्शियल स्टार है तो मुझे बहुत अच्छा लगता है जब उनके साथ मेरी तुलना होती है। पहले तो लोगों को मेरा नाम ही नहीं पता था।”

फिल्मी परिवार से संबंध ना रखने वाले कार्तिक धीरे धीरे ही सही, लेकिन अपनी फिल्मों से दर्शकों का दिल जीत रहे है। हाल ही में लक्ष्मण उतेकर निर्देशित फिल्म ‘लुका छुप्पी’ में उनके अभिनय को काफी सराहा गया। कार्तिक बहुत ही जल्द भूमि पेडनेकर और अनन्या पांडे के साथ फिल्म पति, पत्नी और वो में दिखेंगे।

HFT हिन्दी की एडिटर, मनमौजी, हठी लेकिन मेहनती..उड़ नही सकती लेकिन मेरी कल्पनाशक्ति को उड़ने से कोई नहीं रोक सकता। अपने महिला होने पर मुझे सबसे ज्यादा गर्व है। लिखना मेरा शौक है। लिखने के अलावा बेटे के साथ गप्पे मारना और खेलना मुझे बेहद पसंद है।