हर साल बहुत सी ऐसी फ़िल्में बनती है जो अपनी कहानियों से देशभक्ति की भावना लेकर आती है। तो क्यों ना इस साल स्वतंत्रता दिवस पर हम कुछ ऐसे एक्टर्स को याद करें जो सच-मुच अपने शानदार अभिनय से दर्शकों को देश के प्रति कुछ करने के लिए प्रेरित करते हैं।

मनोज कुमार

मनोज कुमार की 'उपकार'
मनोज कुमार की ‘उपकार’

‘भारत कुमार’ के नाम से मशहूर अभिनेता मनोज कुमार का नाम जब भी आता है, तो दर्शकों को सिर्फ एक शब्द याद आता है, वह है ‘देशभक्ति’। हिंदी सिनेमा के इस दिग्गज अभिनेता ने देश और देश के अलग-अलग मुद्दों से जुड़ी कई फ़िल्में की हैं। ‘उपकार’, ‘पूरब और पश्चिम’ और ‘शहीद’ जैसी फिल्में देशभक्ति से जुड़ी उनकी कुछ सबसे लोकप्रिय फिल्में हैं। बहुत कम लोगों यह बात जानते हैं कि 1965 के भारत-पाकिस्तान युद्ध के बाद, खुद प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री ने मनोज कुमार को ‘जय जवान जय किसान’ नारे पर एक फिल्म बनाने के लिए कहा था, जिसके बाद मनोज कुमार जी ने सुपरहिट फिल्म ‘उपकार’ बनाई थी। इस फिल्म का एक गाना ‘मेरे देश की मिट्टी’ बहुत लोकप्रिय हुआ था।

अक्षय कुमार

अक्षय कुमार के माथे पर सजी केसरी पगड़ी
अक्षय कुमार के माथे पर सजी केसरी पगड़ी

भले ही अक्षय कुमार कानूनी तौर पर एक इंडियन सिटिज़न ना हो, लेकिन उन्होंने अपनी फिल्मों से भारत के प्रति अपनी देशभक्ति जताई है और दर्शकों को भी बहुत प्रभावित किया है। कितनी दिलचस्प बात है कि पिछले कुछ समय से अक्षय कुमार अपनी ज़्यादातर फिल्मों में राष्ट्रवाद, देशभक्ति और सामाजिक मुद्दों को दिखाते हैं। ‘केसरी’, ‘एयरलिफ्ट’, ‘बेबी’, ‘हॉलीडे’, ‘रुस्तम’ और ‘गोल्ड’ जैसी फिल्में देशभक्ति से जुड़ी अक्षय की सबसे चर्चित फ़िल्में हैं। सिर्फ देशभक्ति ही नहीं, बल्कि अक्षय कुमार ने ‘पैडमैन’ और ‘टॉयलेट: एक प्रेम कथा’ जैसी फिल्मों के माध्यम से भारत के सामाजिक मुद्दों को भी बखूबी दर्शाया है। वो अपनी फिल्मों के माध्यम से दर्शकों में एक जागरूकता लाने की कोशिश करते हैं। अक्षय की आनेवाली फिल्म ‘मिशन मंगल’ देखने के बाद आपको अपने देश पर गर्व महसूस होगा।

आमिर खान

'लगान' में अंग्रेज़ों से लड़ी थी आमिर और उनकी टीम
‘लगान’ में अंग्रेज़ों से लड़ी थी आमिर और उनकी टीम

यह कितनी अच्छी बात है कि आमिर खान ने लगभग 8-9 बॉलीवुड फिल्में ऐसी की हैं जिनमें देशभक्ति की भावना है। ‘सरफ़रोश’, ‘मंगल पांडे’, ‘रंग दे बसंती’ और ‘लगान’ जैसी फ़िल्में भारत के प्रति देशभक्ति की असीम भावना को दर्शाती हैं। इन सब फिल्मों में आमिर की कड़ी मेहनत, निष्ठा और दूसरों में भी देश के प्रति ऐसी भावना जगाने का जोश साफ़-साफ़ झलकता है। इसके अलावा उन्होंने ‘द अर्थ और ‘राख’ जैसी फिल्मों से दर्शकों को देश के प्रति कुछ करने के लिए प्रभावित करने की कोशिश की। सिर्फ फिल्म ही नहीं, बल्कि आमिर खान असल ज़िन्दगी में भी बहुत से ऐसे सामाजिक कार्यों में जुड़े हुए हैं और लगातार देश के विकास के लिए काम करते रहते हैं। आमिर खान ‘सत्यमेव जयते’ नामक एक टेलीविजन शो के भी होस्ट हैं, जो देश की अनेक समस्याओं और उनसे जुड़े उपायों पर बात करता है। इतना ही नहीं उनका पानी फाऊंडेशन देश में मौजूद पानी समस्या के लिए भी काम करता है।

जॉन अब्राहम

'परमाणु' जॉन ने किया था न्यूक्लियर बम टेस्ट को सफलतापूर्वक पूरा
‘परमाणु’ जॉन ने किया था न्यूक्लियर बम टेस्ट को सफलतापूर्वक पूरा

बॉलीवुड के सबसे गुड लुकिंग हीरोज़ में से एक, जॉन अब्राहम ने भी ‘परमाणु’ ‘सत्यमेव जयते’ ‘रोमियो अकबर वॉल्टर’ और इस साल 15 अगस्त को रिलीज़ होनेवाली ‘बाटला हाउस’ से देश के तमाम अहम मुद्दों पर चर्चा करना शुरू कर दिया है। साल 1998 में इंडियन आर्मी द्वारा किया गया न्यूक्लियर बम टेस्ट हो या फिर साल 2008 में दिल्ली के ‘बाटला हाउस’ एनकाउंटर जैसी सच्ची घटनाएं हो , जॉन ये कई ऐसे मुद्दों पर बनी फिल्मों में शानदार अभिनय किया है। इतना ही नहीं, जॉन की फिल्म ‘परमाणु’ साल 2018 की सबसे अच्छी फिल्मों में से थी।

आयुष्मान खुराना

आयुष्मान ने छेड़ी बलात्कार और जातिवाद के खिलाफ जंग
आयुष्मान ने छेड़ी बलात्कार और जातिवाद के खिलाफ जंग

हाल ही में नेशनल अवार्ड जीतने वाले आयुष्मान खुराना ने कई ऐसे मुद्दों पर फिल्में की है, जो हमारे समाज मे मौजूद है, लेकिन दर्शक अक्सर उस बारे में बात नहीं करते। उनकी सबसे लेटेस्ट फिल्म ‘आर्टिकल 15’ में एक थानेदार के रूप में उनका अभिनय ज़बरदस्त था। फिल्म में आप आयुष्मान को जातिवाद, रंग और लिंग के आधार पर हो रहे भेद-भाव और बलात्कार जैसे गंभीर मुद्दों के खिलाफ लड़ते हुए देखते हैं। आयुष्मान ने सचमुच इस फिल्म के ज़रिये समाज की आंखे खोलने की कोशिश की।

इन सब के अलावा भी बॉलीवुड में कई ऐसे अभिनेता हैं, जिन्होंने देशभक्ति से जुड़ी फ़िल्में की हैं। ‘राज़ी’ में आलिया भट्ट, ‘क्रांतिवीर’ और ‘तिरंगा’ में नाना पाटेकर, ‘चक दे इंडिया’ और ‘स्वदेश’ में शाहरुख खान, ‘इंडियन’ और ‘बॉर्डर’ में सनी देओल और ‘लक्ष्य’ में ऋतिक रोशन। बॉलीवुड फ़िल्में और अभिनेताओं ने हमेशा से ही देश के विकास, देश के प्रति निष्ठा और लगन और देशभक्ति को एक बेहतरीन तरीके से दर्शाने की कोशिश की हैं, जो वाकई सराहनीय है।

इसी के साथ आवाज़.कॉम आप सभी को स्वतंत्रता दिवस की ढेर सारी शुभकामनाएं देता हैं।

अपने सपनो को पूरा करने की ताक़त रखती हूँ। अभिलाषी हूं और नई चीज़ों को सीखने की इच्छुक भी। एक फ्रीलान्स एंकर। मेरी आवाज़ ही नहीं, बल्कि लेखनी भी आपके मन को छू लेगी। डांसिंग और एक्टिंग की शौक़ीन। माँ की लाड़ली और खाने की दीवानी।