जिन अभिनेताओं का जीवन आज हमे शानदार और ग्लैमरस दिखता है, उन्होंने इस मुकाम तक पहुंचने के लिए एड़ी चोटी का ज़ोर लगा दिया था। ऐसा नहीं है कि जिन अभिनेताओं को हम इतना पसंद करते हैं वे करियर की शुरुआत से ही बेहतरीन कलाकार रहे हैं। सबसे पहले उन्होंने कैमरे के पीछे रह कर अपना करियर शुरू किया। आज उनके शानदार करियर और अभिनय में उनकी अद्भुत पकड़ उन्हें एक लंबे समय के संघर्ष और अभिनय में आवश्यक जानकारी लेने के बाद प्राप्त हुई है।

आपने ये वाक्य तो सुना ही होगा कि ‘पिच्चर अभी बाकी है मेरे दोस्त’, जिसका असली मतलब आपको असिस्टेंट डिरेक्टर के पद पर काम कर चुके ये अभिनेता बता देंगे, क्योंकि उन्होंने कभी हार नहीं मानी। इसी क्षेत्र के माध्यम से उन्होंने अभिनय के बारे में सब कुछ सीखा और बिना किसी परिवार के सदस्य या किसी और की मदद लेते हुए इस इंडस्ट्री में अपना नाम बनाया। चौंका देनेवाली बात यह है कि फिल्म इंडस्ट्री से पूरी तरह से ताल्लुक रखने के बावजूद कुछ कलाकार ऐसे हैं जिन्होंने असिस्टेंट डिरेक्टर के तौर पर अपने करियर कि शुरुआत की। आइये बात करते हैं बॉलीवुड के कुछ ऐसे चेहरों की जिन्होंने एक सफल अभिनेता बनने के लिए कैमरे के पीछे रहकर कड़ी मेहनत की है।

सिद्धार्थ मल्होत्रा – द ट्रू मिलेनियल स्टार

सिद्धार्थ ने ‘माई नेम इज़ खान’ में एक कास्टिंग डायरेक्टर के रूप में बॉलीवुड में अपना सफर शुरू किया

Image Credit: Instagram

अपनी पहली फिल्म ‘स्टूडेंट ऑफ़ द इयर’ में अपने कमाल के अभिनय से दर्शकों को आकर्षित करने से पहले, हैंडसम हंक सिद्धार्त मल्होत्रा की अभिनय में रूचि बढ़ी, जब वे डायरेक्टर करण जोहर की फिल्म ‘माई नेम इज़ खान ‘ में बतौर कास्टिंग डायरेक्टर काम कर रहे थे।

अर्जुन कपूर – द ट्रूली टैलेंटेड सुपर मैन ऑफ बी टाउन

अर्जुन कपूर ने कई फिल्मों में असिस्टेंट डायरेक्टर के रूप में काम किया

Image Credit: Instagram

हम सभी ने इश्कज़ादे में उनके शानदार परफॉर्मेंस को पसंद किया था और 2 स्टेट्स में उनके प्यार भरे अंदाज़ के सब दीवाने बन गए थे। लेकिन बहुत कम लोग यह बात जानते है कि अर्जुन कपूर ने अपने करियर की शुरुआत कैमरे के पीछे रहकर की थी। अर्जुन ने ‘शक्ति’, ‘कल हो ना हो’ और ‘सलाम-ए-इश्क़’ जैसी फिल्मों में एक असिस्टेंट डायरेक्टर के पद पर काम किया है।

ऋतिक रोशन – जिनकी मेहनत रंग लायी

ऋतिक ने अपने पिता को उनकी कई हिट फिल्मों में बतौर असिस्टेंट डायरेक्टर मदद की है।

Image Credit: Instagram

ऋतिक अपनी दृढ़ता के लिए जाने जाते हैं। वह बी टाउन के उन सुपरस्टार्स में से हैं, जिन्होंने अपने स्टारडम को हद से ज़्यादा महत्व ना देते हुए सिर्फ अपने काम पर फोकस किया है। बड़े परदे पर चमकने के लिए अपने सुपरस्टार पिता की मदद ना लेकर ऋतिक ने अपने लिए एक कठिन रास्ता चुना। बतौर फिल्म निर्माता उन्होंने हमेशा अपने काम को सबसे ज़्यादा महत्व दिया है और ‘किंग अंकल’, ‘कोयला’, ‘खुदगर्ज़’ और ‘करण- अर्जुन’ जैसी फिल्मों में एक असिस्टेंट डायरेक्टर के रूप में अपने पिता से ज्ञान प्राप्त किया।

सोनम कपूर – ऐसी फैशनिस्टा, जो फैशन से बढ़कर है

सोनम कपूर ने अपनी पहली फिल्म सांवरिया में असिस्टेंट डायरेक्टर के रूप में काम किया

Image Credit: Instagram

इस खूबसूरत अभिनेत्री में खूबसूरती के अलावा भी कई ऐसे गुण है जो दर्शकों को लुभाते हैं। फिल्म ‘नीरजा’ में अपने दमदार प्रदर्शन के बाद सोनम ने अपने अभिनय का स्तर इतना ऊंचा कर दिया, जिसकी किसी को भी अपेक्षा नहीं थी। लेकिन सोनम के लिए हमारी इज़्ज़त थोड़ी और तब बढ़ गयी, जब हमे पता चला कि उन्होंने ‘संजय लीला भंसाली’ को फिल्म ‘ब्लैक’ और ‘सांवरिया’ में बतौर ‘डायरेक्टर’ असिस्ट किया था।

यदि आपमें प्रतिभा हैं, तो उसे कभी भी अनदेखा नहीं किया जा सकता है। आपकी कड़ी मेहनत आपको बॉलीवुड में सफलता की ऊंचाइयों पर ज़रूर पहुंचाएगी।