भैया जी सुपरहिट यह कहानी है यूपी के मिर्जापुर के माफिया भैया जी (सन्नी देओल) की, जो अपनी हरकतों से भले ही भैया जी हो, लेकिन वह दिल से एक काफी नरम दिल इंसान है। यह माफिया बाकी माफिया से अलग है। यह एक्शन भी करता है और गुस्सा भी करता है, लेकिन इमोशन से भरपूर है। यह फिल्म काफी पुरानी फिल्म है, जिसे बनाने और रिलीज करने में लगभग 7 साल का समय लग गया। हालांकि ये टिपिकल सन्नी देओल स्टाईल की फिल्म है, जो उनके फैंस को बेहद पसंद आएगी। काफी लंबे समय बाद प्रीति जिंटा इस फिल्म से वापसी कर रही है। फिल्म में कई टैलेंटेड कलाकारों की कतार है।

फिल्म की कहानी

Sunny-Deol-500x360
फिल्म का निर्देशन नीरज पाठक ने किया है

भैयाजी पर शक कर उनकी पत्नी सपना दुबे (प्रीति जिंटा) घर छोड़कर चली जाती है। भैया जी अपनी पत्नी से काफी प्यार करते हैं उनका अलग होना उन्हें बर्दाश्त नहीं होता। भैयाजी अपनी बीवी को वापस लाने की जब भी कोशिश करते है, और जब जब भी दोनों एक होने की सोचते है तो कुछ ना कुछ ऐसी सिचुएशन पैदा हो जाती है कि दोनों के बीच गलतफहमियां और बढ़ जाती है। एक दिन भैयाजी की नज़र पड़ती है निर्देशक गोल्डी कपूर यानी अरशद वारसी पर। गोल्डी से फिरौती वसूलना चाहते है, लेकिन गोल्डी उनकी कमज़ोर नस ( सपना दुबे) पहचान जाते है और उनकी और उनकी बीवी के प्यार पर एक फिल्म “ भैयाजी सुपरहिट” बनाने का प्रस्ताव रख भैयाजी से ही ठगी शुरु कर देते है। आखिरकार भैयाजी पर फिल्म बननी शुरु हो जाती है, जिसे लिख रहे हैं राइटर तरुण पोर्नो (श्रेयस तलपड़े) और फिल्म के हीरो और हीरोइन है फन्नी सिंह( सनी देओल का डबल रोल) और मल्लिका (अमीषा पटेल)। फिल्म में भैया जी के दुश्मन का किरदार जयदीप अहलावत ने निभाया है, जिनका नाम हेलीकॉप्टर मिश्रा है, जिसकी कोशिश है कि वो भैयाजी को तबाह कर दे। वो फिल्म के आखिर में सपना दुबे को भैयाजी से दूर करने की कोशिश करता है, लेकिन शिव के परम भक्त होने के कारण भैयाजी पर कभी कोई आंच नहीं आती।

किदारों का अभिनय

Bhaiyaj-superhit-characters-500x360
फिल्म में छोटे बड़े कई कलाकारों की भरमार है

फिल्म में सन्नीदेओल का डबल रोल है हालांकि इंटरवल के बाद ही आपकी मुलाकात फन्नी सिंह से होती है। सन्नी देओल हमेशा की ही तरह अपने स्टाइल में दिख रहे हैं। प्रीति जिंटा काफी लंबे समय बाद वापसी कर रही है। हालांकि प्रीति का रोल बहुत ही छोटा है। फिल्म में अरशद वारसी, श्रेयस तलपडे, संजय मिश्रा, पंकज त्रिपाठी अमीषा पटेल, रनजीत और जयदीप अहलावत जैसे कई कलाकार है, लेकिन किसी भी कलाकार को पूरी तरह से परफॉर्म करने का मौका नहीं मिला। सभी किरदारों के हिस्से में थोड़े थोड़े डॉयलॉग आए हैं। फिल्म में सन्नी का एक्शन उनके फैंस को काफी पसंद आएगा।और उनके फैंस को फिल्म में सन्नी देओल के ढाई किलो के हाथ का फ्लेवर भी देखने को मिलेगा।

फिल्म देखें या नहीं

Sleepy-Sleepy-Akhiyan-500x360
फिल्म को बनने और रिलीज़ होने में 7 साल का समय लग गया

फिल्म की कहानी के साथ साथ निर्देशन भी काफी कमजोर है। कई बार तो आपको लगता है कि आप स्टेज पर नाटक देख रहे ह। फिल्म में कई जगह पर कॉमेडी करने की कोशिश की गई है, लेकिन दर्शकों को हंसी नहीं आती। हालांकि फिल्म के कुछ डायलॉग ऐसे हैं जो आपको बेहद पसंद आएंगे जैसे सन्नी देओल का डायलॉग ‘नतीजा हमारे फैसलों के बाद बदल जाता है’।

फिल्म को देख कर यह लगता है कि फिल्म पुरानी है । साथ ही फिल्म का प्रचार भी इतना नहीं किया गया कि लोगों को इस फिल्म के बारे में पता चले। फिल्म को रिलीज के लिए भी काफी कम थियेटर और स्क्रीन मिले हैं। हालांकि गांव में, पंजाब में और ऐसी जगहों पर जहां सन्नी देओल के फैंस है, वहां इस फिल्म का प्रचार बेहतर तौर पर होता तो यह फिल्म चल भी सकती थी। लेकिन फिल्म को मिली कम स्क्रीन और कम प्रचार के कारण शायद उतना बिज़नेस ना कर सके।

हॉट फ्राइडे टॉक्स फिल्म को 2 स्टार देता है

HFT हिन्दी की एडिटर, मनमौजी, हठी लेकिन मेहनती..उड़ नही सकती लेकिन मेरी कल्पनाशक्ति को उड़ने से कोई नहीं रोक सकता। अपने महिला होने पर मुझे सबसे ज्यादा गर्व है। लिखना मेरा शौक है। लिखने के अलावा बेटे के साथ गप्पे मारना और खेलना मुझे बेहद पसंद है।