15 अगस्त 1947, भारतीय इतिहास का ऐसा भाग्यशाली और महत्वपू्र्णं दिन था, जब हमारे भारतीय स्वतंत्रता सेनानियों ने अपना सब कुछ न्योछावर कर भारत देश के लिये आज़ादी हासिल की। भारतीयों के लिये एक बहुत ही खास दिन है क्योंकि, इसी दिन वर्षों की गुलामी से हम आज़ाद हुए और हमें अपना स्वराज्य प्राप्त हुआ।  इस दिन हर भारतीय के मन में देशभक्ति की भावना बलशाली होती है और इस दिन लोग हमारे देश के वीरों का बलिदान याद करते हैं। यदि आप भी इस स्वतंत्रता दिवस को देश के वीरों के नाम करना चाहते हैं, तो इन युद्ध पर बनी फिल्मों को ज़रूर देखें।

द गाज़ी अटैक: यह फिल्म 1971 में हुए भारत-पाक युद्ध के दौरान पाकिस्तानी पनडुब्बी ‘पीएनएस गाजी’ के रहस्यमयी ढंग से गायब होने के बारे में है। इस फिल्म में भारत और पाकिस्तान के बीच युद्ध ज़मीनी नहीं, बल्कि समुद्र की गहराइयों में होता है। इस फिल्म में राणा दग्गुबाती, तापसी पन्नू, केके मेनन, अतुल कुलकर्णी और दिवगंत अभिनेता ओम पुरी जैसे मंजे हुए कलाकार प्रमुख भूमिकाओं में हैं।

बॉर्डर: साल 1997 में रिलीज़  हुई डायरेक्टर जेपी दत्ता की फिल्म ‘बॉर्डर’ ने मानो इतिहास ही रच दिया। भारत पाकिस्तान के बीच में 1971 को लोंगेवाला पोस्ट पर हुई लड़ाई पर बनी इस फिल्म को दर्शकों का जबरदस्त प्यार मिला। सनी देओल, सुनील शेट्टी, अक्षय खन्ना, जैकी श्रॉफ, तब्बू , पूजा भट्ट,  कुलभूषण खरबंदा और राखी जैसे सितारों से भरी इस फिल्म ने उस दौर में जबरदस्त बिज़नेस किया।

एलओसी कारगिल: साल 2003 में एक बार फिर डायरेक्टर जेपी दत्ता युद्ध पर बनी फिल्म ‘LOC’ लेकर आये। इस फिल्म में भारत और पाकिस्तान के बीच कारगिल युद्ध को दिखाया गया।

लक्ष्य:  साल 2004 में डायरेक्टर फरहान अख्तर की फिल्म ‘लक्ष्य’ भी लोगों का दिल जीतने में कामयाब रही। रितिक रोशन और प्रीति जिंटा की इस फिल्म में भी कारगिल युद्ध कुछ अंश दिखाए गए थे।

ये फ़िल्में देखकर आप भी देश पर जान न्योछावर करने के लिए तैयार हो जाएंगे ।
मेरी आवाज़ ही पहचान है! संगीत मेरी कल्पना को पंख देता है.. किताबी कीड़ा, अडिग, जिद्दी, मां की दुलारी.. प्राणी प्रेम ऐसा कि लोग मुझे लगभग पागल समझते हैं! खाने के लिए जीनेवाली और हद दर्जे की बातूनी.. लेकिन मेरा लेखन आपको बोर नहीं करेगा..