आजकल अधिकांश लोग अपनी जॉब्स को लेकर संतुष्ट नहीं रहते हैं। कारण कई होते हैं जैसे, सही रोल का ना मिल पाना, सैलरी का कम होना, ढेर सारा तनाव, बॉस से पटरी ना बैठा पाना और ऑफिस पॉलिटिक्स। इन सबके बीच जॉब में इनसिक्यूरिटी एक ऐसा मसला है जिससे ज़्यादातर लोग घबराए रहते हैं। आजकल के जॉब एनवायरनमेंट के बीच हमारे लिए ज़रूरी है उस वक़्त के बारे में ठीक से जानना जब हमारी जॉब सबसे ज्यादा खतरे में हो सकती है। करियर एक्सपर्ट्स ऐसे कुछ संकेत बताते हैं जो हमें इस ओर अलर्ट करते हैं। तो आइये, जानते हैं ऐसे ही कुछ संकेतों के बारे में, जो बताते हैं खतरे में है आपकी जॉब।

साइडलाइन किया जाना

पहला और सबसे स्पष्ट संकेत है पिक्चर में ना होना। यदि आपको ऑफिस से संबंधित किसी भी मीटिंग, प्रेजेंटेशन, प्लानिंग या डिस्कशन में शामिल नहीं किया जा रहा हो तो सतर्क हो जाइए। कॉर्पोरेट वर्ल्ड में अक्सर लोगों को जॉब से निकालने से पहले ठीक इसी प्रकार की प्रक्रिया को फॉलो किया जाता है। ऐसा करके संबंधित बॉस या मैनेजमेंट ना सिर्फ एम्प्लोई का कॉन्फिडेंस ख़त्म करता है, बल्कि उसे ऐसा करके अपमानित भी किया जाता है ताकि वह स्वतः ही जॉब छोड़कर चला जाये। यदि आप भी ऐसी ही किसी सिचुएशन से दो-चार हो रहे हैं तो अलर्ट रहें।

वर्कलोड का कम होना

यह दूसरा संकेत है, यदि बॉस द्वारा अचानक से आपका वर्कलोड कम कर दिया गया हो, तो सतर्क हो जाइए। क्योंकि लंबे समय तक आपको काम नहीं देकर यह साबित किया जायेगा कि आपकी सैलरी के अगेंस्ट आपका रोल कंपनी में जस्टिफाइड नहीं हो रहा। ऐसा होते ही आपके ऊपर छटनी के बादल मंडराने लगेंगे। ऐसी किसी भी सिचुएशन से बचने के लिए आगे बढ़कर ज़िम्मेदारी लेना शुरू कर दीजिये, बढ़चढ़कर प्रोजेक्ट्स में हिस्सा लीजिये और अपने आपको एक्टिव दिखाना शुरू कर दीजिये।

ये स्थितियां करती हैं इशारा, अपनी जॉब से हाथ धो देंगे आप

बॉस करे इग्नोर

Image Credit:freepik.com

बातचीत का भाव

यह तीसरे और सबसे घातक संकेतों में से एक है। यदि आपके बॉस ने आपसे बातचीत करना बंद कर दिया है तो इसका मतलब साफ़ है कि वह आपको पूरे सिस्टम से अलग-थलग करना चाहता है। कम्युनिकेशन गैप होने से जल्द ही वर्कप्लेस पर आपके और सीनियर्स के बीच मनमुटाव होना शुरू हो जायेगा और लॉन्ग रन में यह आपके लिए हानिकारक है। इसलिए एक्सपर्ट्स की मानें तो ऐसी किसी भी सिचुएशन से बचने के लिए अपने बॉस से आमने-सामने बातचीत करके मामले को हल करने का प्रयास करें।

नेगेटिविटी का दौर

यदि आपको ऑफिस में लगातार नेगेटिविटी दिखाई दे रही है, आपको कोई सपोर्ट नहीं कर रहा है और ना ही आपके पास कोई जिम्मेदारी है। तो समझ लीजिये यह भी आपके लिए खतरे की घंटी है और यह संकेत है कि आपकी जॉब खतरे में है। नेगेटिविटी से बचने के लिए आप मैनेजमेंट और अपने बॉस से खुलकर अपने रोल के बारे में बात करें। इसमें किसी भी प्रकार का संकोच आपके लिए घातक साबित हो सकता है इसलिए बिना किसी फॉर्मेलिटी के अपनी बात रखें और नेगेटिविटी को ख़त्म करें।

दूसरे को अपना काम सिखाना पड़े

अपना काम दूसरों को सिखाना हमेशा अच्छी बात है, लेकिन यदि यह काम ऐसे वक़्त करवाया जाये जब बॉस के साथ आपकी पटरी ना बैठ रही हो तो ज़रा अलर्ट रहें। हो सकता है कि आपका काम किसी दूसरे व्यक्ति को सिखाने के बाद आप को जॉब से हटा दिया जाये। यदि आपके साथ भी इस वक़्त कुछ ऐसा ही हो रहा है तो सतर्क हो जाएं।

आपके जूनियर्स से मैनेजमेंट सीधे बात करे

आपकी जॉब खतरे में है इस बात की पुष्टि करने वाले संकेतों में से यह एक है। जब आपका बॉस और मैनेजमेंट सीधे आपके जूनियर्स से बात करने लगें तो समझ जाएं कि कुछ तो गड़बड़ है। आपके रहते हुए यदि आपको किसी भी प्रकार की बातचीत में शामिल नहीं किया जा रहा है और सीधे आपके जूनियर्स से बात की रही है तो यह आपके लिए अलार्मिंग सिचुएशन है।

This is aawaz guest author account