अगर आप लगातार ऑफ़िस चेयर पर बैठे रहते हैं और एक के बाद एक कई काम समय पर निपटा लेने को खुद का बड़ा अचीवमेंट मानते तो हैं आपको अपनी सोच थोड़ी सी बदलने की जरुरत है। आप इससे अपनी वर्क लाइफ में तो आगे हो जाएंगे लेकिन लगातार बैठे रहने से जो आपकी सेहत को नुकसान पहुंचेगा,उसकी भरपाई करना आपके लिए आसान नहीं होगा क्योंकि कई घंटों तक बैठे रहने से कई बीमारियां लगने का खतरा बहुत अधिक बढ़ जाता है। आज हम आपको बताते हैं कि बैठने से आपको कौन सी बीमारियां होने की संभावना बढ़ जाती है।

हार्ट डिसीज: डॉक्टर आर.पी पटेल के मुताबिक, बैठने से सबसे ज्यादा खतरा दिल की बीमारियों का है। ऐसा इसलिए है क्योंकि बैठने से बॉडी फैट कम बर्न कर पाती है और यही वजह है कि फैटी एसिड्स दिल की धमनियों में जमने लगते हैं और ब्लॉकेज, हार्ट अटैक जैसी समस्या का रूप लेकर आपकी जान खतरे में डाल देते हैं।

लगातार बैठना हो सकता है रिस्की

Sitting-for-long-time-has-many-bad-affects-on-health-500x360
दिल से लेकर दिमाग पर पड़ता है बैठे रहने से असर

Image Credit: DuniaFitnes.com

बॉडी पेन: लगातर बैठे रहने से गर्दन,कंधों,हिप्स और बैक में पेन होने की समस्या हो जाती है।

खराब पॉश्चर: कई घंटों तक बैठे रहने से बैक पर काफी ज्यादा दबाव बढ़ता है और इससे बॉडी पॉश्चर बिगड़ने की प्रॉब्लम हो जाती है। इसलिए हर एक घंटे में 5 मिनट का ब्रेक ज़रुर लें और जितना हो सके लगातार न बैठे रहें।

ब्रेन डैमेज: जी हां, चौंकिए मत, बैठे रहने से केवल शरीर ही नहीं बल्कि दिमाग पर भी बुरा असर पड़ता है। यूनिवर्सिटी ऑफ़ कैलिफोर्निया,लॉस एंजिलिस की रिसर्च के मुताबिक, ज्यादा देर तक बैठने से ब्रेन के उस हिस्से में असर होने लगता है जहां से नई मैमोरी बनती है।

वजन बढ़ना: यह फैक्ट सभी जानते हैं कि बैठे रहने से कमर के आसपास के हिस्से में चर्बी जमने लगती है और मोटापा हावी होने लगता है।

डायबिटीज: अनियमित लाइफस्टाइल, खानपान और बैठे रहने वाले लोगों को डायबिटीज का खतरा बाकी लोगों की अपेक्षा ज्यादा होता है।

वैरिकाज – वेंस की समस्या: बैठने से आपके पैरों पर काफी प्रेशर आता है। साथ ही पैर लटके रहने से भी परेशानी होती है, नतीजतन नसों में सूजन की बीमारी यानी वैरिकाज – वेंस हो सकती है जिससे असहनीय दर्द होता है।

एंजायटी: अगर आपकी डेस्क जॉब में लगातार कंप्यूटर या लैपटॉप के सामने लगातार बैठे रहना लिखा है, तो इससे आपको एंजाइटी, चिढ़चिढ़ापन हो सकता है। साथ ही लगातार स्क्रीन देखने से आंखों में समस्या और नींद न आने जैसी बीमारी हो सकती है। इसलिए इन सभी बीमारियों से बचने के लिए काम के दौरान थोड़े ब्रेक लेते रहें,बीच-बीच में उठकर थोड़ी वॉक करें। हो सके तो स्ट्रेचिंग करें जिससे गर्दन और बैक पेन नहीं होगा और आप हेल्दी रहेंगे।

This is aawaz guest author account