कहते हैं कि खूबसूरती की कुछ निशानियां ऊपर वाला लोगों को देता है। ऐसी ही एक निशानी है गालों पर पड़ने वाले डिम्पल, जो लोगों की खूबसूरती में चार चांद लगा देते हैं। बॉलीवुड की कई जानीमानी हस्तियां हैं, जो अपने डिम्पल्स की वजह से जानी जाती हैं। इन हस्तियों में से शाहरुख़ खान, प्रीति ज़िंटा दीपिका पादुकोण, आलिया भट्ट और शर्मीला टैगोर जैसे नाम शामिल हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि ये डिम्पल आखिर क्यों पड़ते हैं? आइये आज हम आपको बताते हैं इसके कारण।

अनुवांशिकता है एक कारण

डिम्पल भी मांसपेशियों के एक खास समीकरण की वजह से बनते हैं।

credit: steemitimages.com

अक्सर डिम्पल पड़ने का कारण अनुवांशिकता होता है। यदि परिवार के किसी सदस्य या माता-पिता को डिम्पल पड़ते हैं, तो बच्चों को भी डिम्पल्स विरासत में मिलते हैं। लेकिन ऐसा हमेशा नहीं होता। ये भी कुछ खास लोगों को ही मिलता है, क्योंकि डिम्पल भी मांसपेशियों के एक खास समीकरण की वजह से बनते हैं।

मांसपेशियों की संरचना है कारण

कहा जाता है कि डिम्पल मांसपेशियों की खास संरचना की वजह से बनते हैं। जब गाल की एक मांसपेशी, दूसरी से छोटी रह जाती है, तब डिम्पल बनते हैं। इस मांसपेशी को जीगोमेटिक मसल्स कहा जाता है। यदि यह मांसपेशी बीच में से अलग हो जाए और छोटी रह जाए तो डिम्पल बनते हैं।

गायब भी हो जाते हैं डिम्पल

जो डिम्पल बचपन में बनते हैं, वो बड़े होकर गायब भी हो जाते हैं

credit: istockphoto.com

आपको जानकर हैरानी होगी कि जो डिम्पल बचपन में बनते हैं, वो बड़े होकर गायब भी हो जाते हैं। अक्सर ऐसा होता है कि बच्चों को गाल पर मौजूद बेबी फैट की वजह से डिम्पल्स पड़ते हैं, लेकिन जब वे बड़े होने लगते हैं ये फैट कम हो जाता है और डिम्पल बनना बंद हो जाते हैं।

गालों के अलावा यहां भी पड़ते हैं डिम्पल

आपको जान कर हैरानी होगी कि कुछ लोगों को गालों के बजाय ठुड्डी यानी कि चिन पर भी डिम्पल पड़ते हैं। लेकिन इसका कारण गालों पर पड़ने वाले डिम्पल की तरह नहीं, बल्कि यह इसलिए पड़ता है क्योंकि बच्चे के जन्म से पहले उसकी बायीं और दायी चिन आपस में जुड़ नहीं पाती।

तो ये थी डिम्पल से जुड़ी कुछ खास बातें, जिसे जान कर आप ज़रूर हैरान हुए होंगे।

मेरी आवाज़ ही पहचान है! संगीत मेरी कल्पना को पंख देता है.. किताबी कीड़ा, अडिग, जिद्दी, मां की दुलारी.. प्राणी प्रेम ऐसा कि लोग मुझे लगभग पागल समझते हैं! खाने के लिए जीनेवाली और हद दर्जे की बातूनी.. लेकिन मेरा लेखन आपको बोर नहीं करेगा..