रमजान के पवित्र महीने की की शुरुआत हो चुकी है। इस महीने में लोग ऊपरवाले को याद कर दिन भर उपवास करते हैं और रात में शाम ढलते ही भोजन करते हैं। दिन भर बिना पानी और बिना खाए रहना आसान बात नहीं है, यही वजह है कि शाम को होने वाली इफ्तारी के दौरान लोग हेल्दी खाना पसंद करते हैं, जो उन्हें दिनभर की थकान दूर भगाता है और उन्हें अगले दिन के लिए ताकत देता है। साथ ही इस झुलसती गर्मी में रमज़ान के रोज़े लोगों के लिए और भी चुनौतीपूर्ण हो जाते हैं। आज हम आपको कुछ ऐसी ही टिप्स से वाकिफ करवाएंगे, जिसकी मदद से आप रोज़ों के दौरान अपनी सेहत का ख़्याल बेहतर तरीके से रख पाएंगे।

इफ्तार को लेकर रखें ख़्याल

पेट को अचानक बहुत सारा खाना पचाने की ज़रुरत पड़ती है और शरीर ठीक से काम नहीं कर पाता

अक्सर लोग दिन भर रोज़ा रखने के बाद दिन का पहला मील यानी कि इफ्तार में बेहद भारी और ज़्यादा खाना खा लेते हैं, जिसकी वजह से पेट की आंतों पर ज़ोर पड़ता है। जिसकी वजह से पेट को अचानक बहुत सारा खाना पचाने की ज़रुरत पड़ती है और शरीर ठीक से काम नहीं कर पाता। ऐसे में अक्सर आपको अपच और दस्त जैसी समस्याएं हो सकती हैं। इसलिए इफ्तार में हल्का खाना खाएं। आप चाहें तो कुछ देर रूक कर दोबारा खाना खा सकते हैं। ऐसे में आपके पेट पर असर नहीं पड़ेगा और आप स्वस्थ महसूस करेंगे।

पानी से करें शुरुआत

मुंबई की जानीमानी न्यूट्रिशनिस्ट हिमांगी भाटिया की माने तो जब आप पूरे दिन रोज़ा रखने के बाद कुछ खाते हैं, तो इसका सीधा असर हमारे पाचन तंत्र पर पड़ता है, इसलिए हमेशा रोज़ा तरल पदार्थ के साथ पूरा करना चाहिए। जब बात हो किसी पेय की, तो नीम्बू पानी से बेहतर आपके लिए कुछ नहीं हो सकता। आप चाहें तो निम्बू पानी की जगह नारियल पानी और बेल का शरबत भी ले सकते हैं। ये पेय आपके पेट और पाचन तंत्र के लिए बेहद उपयोगी माना जाता है। इसे पीने के बाद पेट में मौजूद एसिड कर होता है, जिससे खाना पचने में आसानी होती है।

सहरी में चुने सही आहार

रात भर बिगोए हुए बादामों को सुबह खाने से दिन भर के लिए शरीर तंदुरुस्त रहता है

रोज़े की शुरुआत करने से पहले सहरी में खायी जानेवाली चीज़ों का भी आपको विशेष ख़्याल रखना चाहिए। सहरी में खाया जानेवाला खाना आपके शरीर को पूरे दिन ऊर्जा देता है। इसलिए सहरी में खाये जानेवाले मेवों में बादाम का इस्तेमाल मुख्य रूप से करना चाहिए। रात भर बिगोए हुए बादामों को सुबह खाने से दिन भर के लिए शरीर तंदुरुस्त रहता है। साथ ही सहरी में आपको भरपूर मात्रा में फल और सलाद का सेवन करना चाहिए। याद रहे कि आप कुछ मात्रा में दूध भी पिएं, जिससे आपका पेट लम्बे समय तक भरा रहे।

खजूर का महत्त्व

आपको ये ज़रूर जानना चाहिए कि खजूर एक ऐसा खाद्य पदार्थ है, जो रोज़ों के बाद आपके शरीर को सबसे ज़्यादा फायदा पहुंचाता है। खजूर में भरपूर मात्रा में फायबर और एंटी ऑक्सीडेंट होते हैं, जो दिन भर के भूखे पेट को बेहद फायदा पहुंचाती है। यह ऊर्जा का एक स्त्रोत है, जो पोषक तत्वों से भरपूर माना जाता है। इसलिए रोज़ों के बाद आपको खजूर का सेवन ज़रूर करना चाहिए।

यदि आप रोज़ों में सेहतमंद रहना चाहते हैं, तो आपको ज़रूर इन टिप्स को अपनाना चाहिए।

मेरी आवाज़ ही पहचान है! संगीत मेरी कल्पना को पंख देता है.. किताबी कीड़ा, अडिग, जिद्दी, मां की दुलारी.. प्राणी प्रेम ऐसा कि लोग मुझे लगभग पागल समझते हैं! खाने के लिए जीनेवाली और हद दर्जे की बातूनी.. लेकिन मेरा लेखन आपको बोर नहीं करेगा..