अगर आप ये सोच रहे हैं कि हम आपको अभी बीयर पीने की सलाह दे रहे हैं, तो ऐसा नहीं है। हम बस आपको इतना बता रहे हैं कि जी हां, अगर आप दूसरी ऐल्कॉहॉलिक ड्रिंक्स के बजाय बीयर पी रहे हैं, तो वो बेहतर हो सकता है।

यहां ये याद रखना भी ज़रूरी है कि आपको खुद को संभालना आना चाहिए, क्योंकि अगर आपने बीयर पीते ही उल्टी कर दी, तो किसी भी तरह का फायदा नहीं हो पायेगा।

अगर आप तैयार हैं, तो हम आपको बताते है कि एसी क्या चीज है जिसे गरम बीयर बेहतर बना सकती हैं।

पाचन में कर सकता है मदद

ये याद रखियेगा कि हम आपको केवल इतना बता रहे हैं कि दूसरे ऐल्कॉहॉलिक ड्रिंक्स के बदले में बीयर पीना आपकी पाचन शक्ति के लिए ज़्यादा लाभदायक होगा। ऐसा इसलिए क्योंकि बीयर, ख़ास तौर पर डार्क बीयर के १० मि.ली. के ग्लास में करीब १ ग्राम सॉल्यूबल फाइबर है, जिससे बदहज़मी, कब्ज़, दस्त जैसी तकलीफें कम हो सकती हैं।

इसमें बी. विटामिन्स भी हैं

drinking-beer-slows-down-alzheimers-parkinsons-disease
बीयर पीने की और वजह?

ये वाली खूबी शायद आपको सुनने में वाकई अच्छी लगे, ख़ास तौर पर अगर आप दोस्तों के साथ बाहर जाने के बारे में सोच रहे हैं, और बीयर पीने का भी प्लॉन है। बीयर में कुछ बी विटामिन्स पाए जाते हैं, जैसे कि बी१, बी२, बी६ और बी१२। इनसे दिल की बीमारी का खतरा कम हो सकता है, और आपकी रोग प्रतिरोधक शक्ति भी और बेहतर हो सकती है। अगर आप इसे वाइन के साथ मिला कर देखें, तो वाइन में बीयर के मुकाबले बी विटामिन्स की मात्रा कम है।

क्या बीयर पीकर आपको कभी नींद आई है?

क्या कभी ऐसा हुआ है कि आपने बीयर पीया है और आप एकदम चुस्त और सतर्क हो गए हों या क्या ऐसा हुआ है कि बीयर पीने के बाद आपको एक हल्की सी सुस्ती और थोड़ा सा आलस आने लगता है, और सोने का मन करता है? अगर ये बात सही है, तो वो इसलिए क्योंकि बीयर में निकोटीनिक ऐसिड और लैक्टोफ्लॉविन पाए जाते हैं, जिनसे आपको सुस्ती महसूस हो सकती है और अच्छी नींद आ जाती है।

ये सब पढ़ के ज़ाहिर सी बात है कि आपको अभी बीयर पीने का मन कर रहा होगा। अगर ऐसा है, तो इतना ध्यान रखिये कि कोई भी चीज़ ज़्यादा मात्रा में नुकसान पहुंचाती है फिर वो बीयर ही क्यों ना हो। इसलिए पीजिये, मगर ध्यान से, और पीने के बाद ड्राइव मत कीजिए।