खाने में उपयोग किये जाने वाले भारतीय मसाले अपने रंग और स्वाद की वजह से देश ही नहीं दुनिया भर में मशहूर हैं। यह केवल खाने में स्वाद बढ़ाने का काम ही नहीं करते बल्कि इनमें कई औषधीय गुण भी छुपे होते हैं, यह स्वास्थ्य सम्बन्धी कई बीमारियों की रोकथाम में भी काम आते हैं। प्राचीन काल से लोग गोली-दवा से नहीं बल्कि किचन में मौजूद इन मसालों के जरिये ही अपनी स्वास्थ्य समस्याओं का हल निकालते आ रहे हैं। आइये आज हम भी आपको बताते हैं कुछ मसालों के बारे में जिन्हें उपयोग कर आप भी हेल्थ बेनेफिट्स उठा सकते हैं।

जीरे से लेकर अजवाइन में छुपे हैं पेट दर्द दूर करने के उपाय

धनिया की पत्तियां ही नहीं बीज भी हैं फायदेमंद

Image Credit: ndtvimg.com

जीरा: डायटीशियन मंजरी ताम्रकार के मुताबिक, इसका उपयोग बहुत होता है, चाहे चावल हो या दाल फिर सब्जी, यह हर तरह के खाने का स्वाद बढ़ाने के लिए जाने जाते हैं। जीरा खाने से पाचन क्रिया ठीक होती है। कॉपर की मौजूदगी के कारण यह अपच की समस्या से भी छुटकारा दिलाता है। इसमें मौजूद एंजाइम पेट दर्द के अलावा वजन कम करने में भी सहायक होते हैं। जीरा लिवर में बाइल जूस के स्त्राव को बढ़ाता है जिससे फैट पचने में आसानी होती है। आपको बस ये करना है कि जीरे के पाउडर को हलके गर्म पानी में खाली पेट पीना है, इससे आपका पेट साफ़ रहेगा।

धनिया: धनिया की पत्तियों से हम खाने की गार्निशिंग में करते हैं। किसी डिश या सलाद में इन्हें डालने से सब्जी की रंगत अच्छी दिखती है लेकिन इसके बीज भी पेट की समस्याओं से राहत दिलाने का काम करती हैं। इनमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट और फाइबर लिवर के सुचारू काम में मदद करते हैं। धनिया के बीजों को रात भर भिगो दें और फिर पीस कर पानी पी लें, इससे पेट ख़राब होने की समस्या, गैस, डायरिया से भी राहत मिलेगी।

मेथी दाना: मेथी दाना खाने से शरीर की इम्युनिटी बढ़ती है। कई रिसर्च में भी पता चला है कि इसे नियमित तौर पर खाने से टाइप 2 डायबिटीज में ग्लूकोज लेवल कम करने में मदद मिलती है और कब्ज की समस्या दूर होती है। साथ ही यह पेट के अल्सर जैसी बीमारी में भी राहत देती है।एंटीऑक्सीडेंट और फाइबर से भरपूर मेथी शरीर के विषैले पदार्थों को निकालने में मदद करती है। मेथी के दानों को रात भर पानी में भिगोकर सुबह खाली पेट उसका पानी पी लें तो गैस्ट्राइटिस, भूख न लगने की समस्या दूर हो जाएगी।

हींग: हींग भारतीय परिवारों में पेट की समस्याओं को दूर करने का ट्राइड और टेस्टेड मसाला है। इसमें औषधीय गुणों का ख़जाना छुपा हुआ है। खाने में इसका उपयोग भी इसलिए किया जाता है ताकि स्वाद के साथ-साथ वह खाने को पचाने में भी मदद करे। इसमें एंटी-इन्फ्लेमेट्री,एंटीसेप्टिक,एंटी-बैक्टीरियल प्रॉपर्टीज होती हैं जिससे पेट दर्द की समस्या दूर होती है। एक कप पानी में चुटकी भर हींग को उबाल लीजिए और पेट दर्द में पीजिए तो आपको तुरंत राहत महसूस होगी।

अजवाइन: इसका प्रयोग भी दादी-नानी के ज़माने से एसिडिटी,गैस जैसी समस्याओं से छुटकारा दिलाने में होता आया है। इसमें मौजूद थायमोल कंपाउंड खाने को पचाने में मदद करता है और गैस से राहत ही दिलाता है। खाना खाने के बाद कुछ अजवाइन के दाने चबा लें तो खाना जल्दी पचेगा। इसके अलावा अगर पेट दर्द है तो अजवाइन को पानी में हल्का से उबाल लें और ठंडा कर उस पानी को पी लें।

This is aawaz guest author account