चाय पीने का चलन हमारे देश में सालों से रहा है। कुछ लोग आज भी ऐसे हैं जिनका दिन चाय की चुस्कियों से ही शुरु होता है। यदि उन्हें सुबह-सुबह गरमा-गरम चाय ना मिले, तो वे दिन भर उदासी से भरे रहते हैं। हाल तो यह है कि हमारे देश में करीब 80 से 90 फ़ीसदी आबादी सुबह उठकर चाय पीना पसंद करती है। लेकिन अब लोग अपनी सेहत को लेकर सोच समझकर कदम उठाने लगे हैं, इसलिए दूधवाली चाय की जगह ग्रीन टी, हर्बल टी, रेड टी, एप्पल टी, इत्यादि ने ले ली है।

लेकिन इस सभी में जो लोग सबसे ज़्यादा पीना पसंद करते हैं, वह है ग्रीन टी। ये तो सभी जानते हैं कि ग्रीन टी में भरपूर मात्रा में सेहतमंद तत्व पाए जाते हैं, लेकिन क्या आप ये जानते हैं कि ग्रीन दिन में कितनी बार और कब पी जानी चाहिए? यदि नहीं, तो आज हम आपको ये जानकारी देते हैं।

कितने कप पियें ग्रीन टी?

दिन में 3 से 4 कप ग्रीन टी आपके लिए फ़ायदेमंद होती है

credit: sciencedaily.com

ग्रीन टी पीना फायदेमंद होता है, लेकिन यदि आप इसे सहीं तरीके से ना पिएं, तो नुक्सान भी पहुंचा सकती है। अक्सर लोगों के मन में ये सवाल उठता है कि एक दिन में कितने कप ग्रीन टी पीना फायदेमंद होता है, लेकिन इसका जवाब आप नहीं जानते। न्यूट्रिशनिस्ट ऋतू सिंह की माने तो ग्रीन टी में भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट होते हैं, लेकिन इसके बावजूद इसमें कैफीन की मात्रा भी पाई जाती है। इसलिए दिन में 3 से 4 कप ग्रीन टी आपके लिए फ़ायदेमंद होती है। इससे ज़्यादा ग्रीन टी पीने से आपका शरीर डिहाइड्रेट हो जाता है।

कब पिएं ग्रीन टी

ग्रीन टी पाचन तंत्र को प्रभावित करती है, लिहाज़ा इसे सही समय पर पीना अच्छा माना जाता है। बेहतर है कि आप सुबह के नाश्ते के साथ इसका पहला कप पिएं। आप इसके बाद दोपहर को 3 से 4 के बीच एक कप पी सकते हैं और इसके बाद शाम को इसकी एक प्याली पी सकते हैं। शाम के बाद पाचन तंत्र धीमा हो जाता है, इसलिए शाम के बाद ग्रीन टी ना पिएं।

क्या हैं ग्रीन टी के फायदे

चाय में कॉफी के मुकाबले आपको कम कैफीन मिलेगी

credit: thealternativedaily.com

ग्रीन टी में एंटीआक्सीडेंट भरपूर मात्रा में पाया जाता है, जो हमारे शरीर को सकारात्मक रूप से प्रभावित करता है। आप को जानकर हैरानी होगी कि ग्रीन टी में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट उम्र बढ़ने से रोकने और प्रदूषण के प्रभाव को कम कर आपके शरीर की रक्षा करती है। वहीं कॉफी में कैफीन की मात्रा अधिक होती है लेकिन चाय में कॉफी के मुकाबले आपको कम कैफीन मिलेगी, जो आपके स्वास्थ्य के लिए अच्छा माना जाता है।

ग्रीन टी पीने से दिल की समस्या और स्ट्रोक का जोखिम कम हो जाता है। चाय पीने से शरीर की धमनियां कॉलेस्ट्रोल से मुक्त हो जाती हैं। वहीं पाया गया है कि ग्रीन टी पीने वाले लोगों की हड्डियां बड़ी उम्र में भी मज़बूत रहती है।

शायद आप नहीं जानते कि ग्रीन टी पीने से आपके शरीर की रोग प्रतिरोधक प्रणाली सक्रिय हो जाती है, जिससे संक्रमण के विरुद्ध लड़ने की क्षमता आपको मिलती है। सर्दी-जुकाम जैसी आम बीमारियां ग्रीन टी पीने से काफी हद तक कम हो जाती है।

मेरी आवाज़ ही पहचान है! संगीत मेरी कल्पना को पंख देता है.. किताबी कीड़ा, अडिग, जिद्दी, मां की दुलारी.. प्राणी प्रेम ऐसा कि लोग मुझे लगभग पागल समझते हैं! खाने के लिए जीनेवाली और हद दर्जे की बातूनी.. लेकिन मेरा लेखन आपको बोर नहीं करेगा..