वरुण धवन और अनुष्का शर्मा की फिल्म ‘सुई धागा’ का ट्रेलर लॉन्च किया गया। इस फिल्म का ट्रेलर इस दंपत्ति की कहानी को बखूबी बयां करता है। मौजी ,जिसका किरदार वरुण धवन निभा रहे हैं और ममता यानी अनुष्का शर्मा की यह कहानी एक ऐसे दंपत्ति की कहानी है, जो अपने दम पर कुछ करना चाहता है और उन्हें सहारा मिलता है ‘सुई धागा’ का। फिल्म का ट्रेलर लोगों को काफी पसंद आ रहा है। खास बात है कि ट्रेलर से पहले कुछ दिन पहले इस फिल्म की थीम को ध्यान में रखते हुए 15 राज्यों की कढ़ाई और हस्तकला को दिखाते हुए फिल्म के15 लोगों लॉन्च किए गए थे।

ट्रेलर लॉन्च के दौरान वरुण धवन और अनुष्का दोनों ही मौजूद थे। दोनों का यह मानना है कि भारत में इतनी खूबसूरत चीजों के होते हुए हमें भारतीय चीजों का ही चयन करना चाहिए। अनुष्का के मुताबिक “मैं आर्मी में पली-बढ़ी हूं। हम जहां-जहां जाते थे, मैंने वहां की जिंदगी को देखा है। मैं आज भी जहां भारत के किसी भी कोने में शूटिंग के लिए जाती हूं, तो वहां की खूबसूरत चीजें खरीदना नहीं भूलती।”

वहीं वरुण मानते हैं, “हमें अपने भारत में ही बनी हुई चीजों का गर्व होना चाहिए। यह फिल्म ऐसी भी ऐसी कई बातों को दिखाती है। हम हमेशा ये सोचते है कि अगर बाहर की चीज़ है तो अच्छी है, लेकिन ऐसा नहीं है। “

खास बात है इस फिल्म के लिए दोनों ने कढाई और सिलाई सीखी। जहां वरुण का किरदार फिल्म में सिलाई करता नज़र आएगा, वहीं अनुष्का का किरदार कढ़ाई करते हुए। वरुण के मुताबिक, “सिलाई सीखना काफी मुश्किल था। मैंने लगभग ढाई महीने सिलाई सीखने की कोशिश की। मैंने इस दौरान एक शर्ट और ब्लाउज़ बनाया है। हालांकि मुझे इसमें काफी मेहनत ज़रूर करनी पड़ी, लेकिन मुझे बहुत मज़ा आया। यह एक कला है।”

शादी के बाद तुरंत फिल्म की शूटिंग में व्यस्त होने वाली अनुष्का का मानना है कि उन्हें इस फिल्म से वह सब करने का मौका मिला, जो शादी के बाद वह फौरन नहीं कर पाई। अनुष्का कहती हैं, “शादी के तुरंत बाद में शूट पर चली गई थी। फिल्म ने मुझे एकदम घरेलू बना दिया था। शादी के बाद मैं विराट के साथ समय व्यतीत ही नहीं कर पाई थी, लेकिन इस फिल्म को करने से मुझे घरेलू फील मिला।”

इस फिल्म से शरत और मनीष की जोड़ी साथ-साथ आ रही है। इन दोनो की फिल्म ‘दम लगा के हईशा’ ने नेशनल अवार्ड जीता था। फिल्म ‘सुई धागा’ को भी यह जोड़ी लेकर आ रही है। जहां मनीष शर्मा ने इस फिल्म का निर्माण किया है, वहीं शरत ने फिल्म का निर्देशन। फिल्म 28 सितम्बर को रिलीज़ होगी।

HFT हिन्दी की एडिटर, मनमौजी, हठी लेकिन मेहनती..उड़ नही सकती लेकिन मेरी कल्पनाशक्ति को उड़ने से कोई नहीं रोक सकता। अपने महिला होने पर मुझे सबसे ज्यादा गर्व है। लिखना मेरा शौक है। लिखने के अलावा बेटे के साथ गप्पे मारना और खेलना मुझे बेहद पसंद है।