कई सालों की लड़ाई लड़ने के बाद आखिरकार सनी देओल और साक्षी तंवर की फिल्म मोहल्ला अस्सी बड़े पर्दे पर रिलीज़ होने को तैयार है। ‘गंगा में हमारा विश्वास अभी अटल है’, ‘हम भारत को पिकनिक स्पॉट और गंगा को स्विमिंग पूल नहीं होने देंगे’, ‘मंदिर और मस्जिद के लड़ाई राम को फिर से बनवास देगी’ जैसे कई चुनिंदा डायलॉग ही थे, जिसने मोहल्ला अस्सी की तरफ लोगों का ध्यान खींचा। इसके अलावा ट्रेलर में इससे कई ज्यादा गाली और डबल मीनिंग डायलॉग हैं। फिल्म का निर्देशन भारत-पाकिस्तान के बंटवारे की कहानी पर बनी ‘पिंजर’ जैसी फिल्म डायरेक्ट कर चुके चंद्रप्रकाश द्विवेदी ने किया है। आप भी देखिए मोहल्ला अस्सी का ये वीडियो।

2004 में आई किताब काशी का अस्सी जिसे साहित्यकार डॉक्टर काशीनाथ सिंह ने लिखा, इस पर मोहल्ला अस्सी बनी है। किताब में राम जन्मभूमि और मंडल कमीशन के दौरान की घटनाओं को राजनीतिक अंदाज में लिखा गया है। इस फिल्म में सनी देओल साक्षी तंवर के अलावा मुकेश तिवारी, सौरभ शुक्ला और रवि किशन मुख्य भूमिका में नजर आएंगे। इस फिल्म में सनी देओल बनारस के अस्सी घाट में रहने वाले पंडित की भूमिका में दिखाई दे रहे हैं, जो संस्कृत के टीचर भी है।

कई कानूनी अड़चनों को भुगत चुकी इस फिल्म को 11 दिसंबर 2017 को दिल्ली हाईकोर्ट ने एक कट और ए सर्टिफिकेट के साथ सीबीएफसी से फिल्म को रिलीज करने का आदेश दिया था। इसे 21 सितंबर 2018 को रिलीज करने का फैसला लिया था, लेकिन अब यह नवंबर 2018 में रिलीज हो रही है।

आपको जानकर हैरानी होगी यह फिल्म ऑनलाइन लीक हो चुकी है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार दिल्ली कोर्ट द्वारा बैन लगाए जाने के बाद यह इंटरनेट पर 11 अगस्त 2015 को लीक हो गई थी। फिल्म के डायरेक्टर और सनी के खिलाफ वाराणसी में गलियों का इस्तेमाल करने के लिए एफआईआर भी हुई थी। 8 अप्रैल 2016 को सीबीएसई ने फिल्म को बैन कर दिया था, लेकिन इतनी मशक्कत के बाद भी आखिरकार इस फिल्म के हक में हाई कोर्ट ने फैसला दिया और अगले महीने बड़े पर्दे पर यह रिलीज़ होगी।

अब यह तो समय ही बताएगा कि यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर कैसा परफॉर्म करती है।

HFT हिन्दी की एडिटर, मनमौजी, हठी लेकिन मेहनती..उड़ नही सकती लेकिन मेरी कल्पनाशक्ति को उड़ने से कोई नहीं रोक सकता। अपने महिला होने पर मुझे सबसे ज्यादा गर्व है। लिखना मेरा शौक है। लिखने के अलावा बेटे के साथ गप्पे मारना और खेलना मुझे बेहद पसंद है।