गणपति महोत्सव के मौके पर अष्टविनायक यात्रा का अपना महत्व है। महाराष्ट्र के पुणे के आस-पास स्थित गणपति के आठ स्वयभू मंदिरों के दर्शन के लिए यूं तो हमेशा ही श्रद्धालुओं की भीड़ रहती हैं, लेकिन गणेशोत्सव के दौरान यहां का माहौल कुछ अलग ही निराला होता है। इन अष्टविनायकों के साथ कई दिलचस्प कहानियां जुड़ी हुई हैं। माना जाता है कि ब्रह्मा जी के वरदान के बाद श्री गणेश ने हर युग में अलग-अलग रुपों में अवतार लिया और लोगों को लुभाया। आवाज़.कॉम इस महोत्सव के शुभ मौके पर, आपके लिए इन्ही अष्टविनायकों से जुड़ा एक खास शो ‘अष्टविनायक’ लेकर आया है। इस शो में आप अष्टविनायकों से जुड़ी कथा और मान्यताओं के बारे में सुन सकेंगे।